Fifties(1950-59)

Aaja Panchhi Akela Hai (Nau Do Gyarah)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Nau Do Gyarah

Release: 1957

Music Director: S.D.Burman

Lyrics Majrooh Sultanpuri

Singers: Asha Bhonsle and Mohammed Rafi

Lyrics in Hindi

ओ आजा पंछी अकेला है
ओ सो जा निन्दिया की बेला है
ओ आजा पंछी अकेला है

उड़ गई नींद यहां मेरे नैन से
बस करो यूंही पड़े रहो चैन से
लागे रे डर मोहे लागे रे
ओ ये क्या डरने की बेला है
ओ आजा पंछी अकेला है …

ओहो कितनी घुटी सी है ये फ़िज़ा
आहा कितनी सुहानी है ये हवा
मर गये हम निकला दम मर गये हम
मौसम कितना अलबेला है
ओ आजा पंछी अकेला है …

बिन तेरे कैसी अंधेरी ये रात है
दिल मेरा धड़कन मेरी तेरे साथ है
तन्हा है फिर भी दिल तन्हा है
लागा सपनों का मेला है
ओ आजा पंछी अकेला है …

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Avid music lover and Dev Anand fan

Leave a Reply