Festive

Ae Duniya Bataa (Kismet)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Kismet

Release: 1943

Music Director: Anil Biswas

Lyrics Kavi Pradeep

Singers: Amirbai Karnataki

Lyrics in Hindi

ऐ दुनिया बता हमने बिगाड़ा है क्या तेरा
घर-घर में दिवाली है
मेरे घर में अंधेरा
मेरे घर में अंधेरा

बचपन में छोड़ के
मेरे बाबुल चले गये
बहना चली गयी
मेरे साजन चले गये 
किस्मत की ठोकरों ने
किया हाल क्या मेरा 
घर-घर में दिवाली है
मेरे घर में अंधेरा

हमने तो फ़क़ीरों से
सुनी थी ये कहानी
किस्मत की लकीरों से
बंधी दुनिया दीवानी
दो घर के बीच में भी है
दीवार का घेरा
घर-घर में दिवाली है
मेरे घर में अंधेरा

चारों तरफ लगा हूआ
मिना-बज़ार है
धन की जहाँ पे जीत
गरीबों की हार है
इंसानियत के भेस में
फिरता है लुटेरा
जी चाहता संसार में
मैं आग लगा दूं
सोए हुए इंसान की
किस्मत को जगा दूं
ठोकर से उड़ा दूं मैं
दया-धर्म का डेरा

अब किसको सुनाऊँ मैं
मेरा गम का तराना
पत्थर के दिलों ने मेरा
दुख-दर्द ना जाना
मेरे जिगर के टुकड़ों
को किसने बिखेरा
उफ़ किसने बिखेरा
घर-घर में दिवाली है
मेरे घर में अंधेरा
घर-घर में दिवाली है
मेरे घर में अंधेरा 

छोटी सी मेरी बिनती 
सुनो ऐ मोरे राजा
ओ सुनो ऐ मोरे राजा
एक बार मेरे प्यार के
पनघट पे तो आजा
ओ पनघट पे तो आजा
ऐ मोरे राजा
तेरे बिना शमशान है
बुलबुल का बसेरा
घर-घर में दिवाली है
मेरे घर में अंधेरा

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Avid music lover and Dev Anand fan

Leave a Reply