Drama

Baabul Ka Yeh Ghar (Daata)

By  | 

Movie: Daata
Release: 1989
Featuring Actors: Mithun Chakraborty, Shammi Kapoor
Music Directors: Kalyanji Anandji
Lyrics: Anjaan
Singers: Alka Yagnik, Kishore Kumar
Trivia:

Lyrics in Hindi

बाबुल का यह घर बेहना
कुछ दिन का ठिकाना हैं
बनके दुल्हन एक दिन
तुझे पिया घर जाना हैं

बापू तेरे बगिया की
मैं तो एक काली हूँ रे
हो बापू तेरे बगिया की
मैं तो एक काली हूँ रे
छोड तेरी बगिया मुझे
घर पिया का सजाना हैं
क्यूँ छोड तेरी बगिया मुझे
घर पिया का सजाना हैं

बेटी घर बाबुल के
किसी और की अमानत हैं
बेटी घर बाबुल के
किसी और की अमानत हैं
दस्तूर दुनिया का
हम सब को निभाना हैं

मैया तेरे आँचल की
मैं तो एक गुड़िया रे
मैया तेरे आँचल की
मैं तो एक गुड़िया रे
तूने मुझे जनम दिया
तेरा घर क्यों बेगाना हैं
मैया तूने मुझे जनम दिया
तेरा घर क्यों बेगाना हैं

मैया पे क्या बीत रही
बेहना तू ये क्या जाने
मैया पे क्या बीत रही
बेहना तू ये क्या जाने
कलेजे के टुकड़े को
रोह रोह के भुलाणा हैं

भैया तेरे अंगना की
मैं कैसे चिडिया रे
हो भैया तेरे अंगना की
मैं कैसे चिडिया रे
रात भर बेसरा हैं
सुबह उड़ जाना हैं
रात भर बेसरा हैं
सुबह उड़ जाना हैं

यादे तेरे बचपन की
हम सब को सताएंगी
यादे तेरे बचपन की
हम सब को सताएंगी
फिर भी तेरी डोली को
कांधा तो लगाना है
बहना तेरी डोली को
कांधा तो लगाना है.


Lyrics in English

Babul ka yeh ghar behna
Kuch din ka thikana hain
Banake dulhan ek din
Tujhe piya ghar jaana hain

Baapu tere bagiya ki
Main tho ek kali hoon re
Ho baapu tere bagiya ki
Main tho ek kali hoon re
Chod teri bagiya muje
Ghar piya ka sajana hain
Kyun chod teri bagiya muje
Ghar piya ka sajana hain

Beti ghar babul ke
Kissi aur ki amanat hain
Beti ghar babul ke
Kissi aur ki amanat hain
Dastoor duniya ka
Hum sab ko nibhana hain

Maiya tere anchal ki
Main to ek gudiya re
Maiya tere anchal ki
Main to ek gudiya re
Tune mujhe janam diya
Tera ghar kyun begana hain
Maiya tune mujhe janam diya
Tera ghar kyun begana hain

Maiya pe kya beet rahi
Behna tu ye kya jaane
Maiya pe kya beet rahi
Behna tu ye kya jaane
Kaleje ke tukde ko
Roh roh ke bhulana hain

Bhaiya tere angana ki
Main kaise chidiya re
Ho bhaiya tere angana ki
Main kaise chidiya re
Raat bhar besara hain
Subha udd jaana hain
Raat bhar besara hain
Subha udd jaana hain

Yaade tere bachpan ki
Ham sab ko satayengi
Yaade tere bachpan ki
Ham sab ko satayengi
Phir bhi teri doli ko
Kaandha to lagana hai
Bahena teri doli ko
Kaandha to lagana hai.

Leave a Reply