Fifties(1950-59)

Deewana Aadmi Ko (Kali Topi Lal Rumal)

By  | 



Song Info

Movie: Kali Topi Lal Rumal

Release: 1959

Featuring Actors: Agha, Kumkum

Music Director: Chitrgupt,

Lyrics: Majrooh Sultanpuri

Singers: Mohammed Rafi

Trivia:

Lyrics in Hindi

दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ
खुद नाचती हैं, सबको नचाती हैं रोटियाँ
खुद नाचती हैं, सबको नचाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को

बूढ़ा चलाए ठेले, को फाकों से झूल के
बूढ़ा चलाए ठेले, को फाकों से झूल के
बच्चा उठाए बोझ, खिलौने को भूल के
बच्चा उठाए बोझ, खिलौने को भूल के
देखा ना जाए जो, देखा ना जाए जो
सो दिखाती हैं रोटियाँ, सो दिखाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को—-

बैठी है ये जो चेहरे पे, मल के जिगर का खूं
दुनिया बुरा कहे इन्हे पर, मैं तो यह कहूँ
दुनिया बुरा कहे इन्हे पर, मैं तो यह कहूँ
कोठे पे बैठ ओ कोठे पे, बैठ आँख लड़ाती हैं रोटियाँ
लड़ाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ

कहता था इक फकीर की, रखना ज़रा नज़र
रोटी को आदमी ही, नही खाते बेख़बर
रोटी को आदमी ही, नही खाते बेख़बर
अक्सर तो आदमी को, अक्सर तो आदमी को भी
खाती हैं रोटियाँ , खाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ

तुझको पते की बात बताऊँ मैं जान-ए-मन
क्यू चाँद पर पहुँचने, की इंसा को है लगन
क्यू चाँद पर पहुँचने, की इंसा को है लगन
इंसा को चाँद मे, इंसा को चाँद मे
नज़र आती हैं रोटियाँ , नज़र आती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ
खुद नाचती हैं, सबको नचाती हैं रोटियाँ
नचाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ
दीवाना आदमी को बनाती हैं रोटियाँ

Lyrics in English

divana aadmi ko banati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan
khud nachti hain, sabko nachati hain rotiyan
khud nachati hain, sabko nachati hain rotiyan
divana aadmi ko —-

boodha chalaye thele, ko phakon se jhool ke
boodha chalaye thele, ko phakon se jhool ke
bachcha uthaye bojh, khilaune ko bhool ke
bachcha uthaye bojh, khilaune ko bhool ke
dekha naa jaye jo, dekha naa jaye jo
so dikhati hain rotiyan, so dikhati hain rotiyan
divana aadmi ko—

baithi hai jo chehre pe, mal ke jigar ka khoon
duniya bura kahe inhe par, mai toh yeh kahun
duniya bura kahe inhe par, mai toh yeh kahun
kothe pe baith o kothe pe, baith aankh ladati hain rotiyan
ladati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan

kehta tha ik fakeer ki, rakhna jara najar
roti ko aadmi hi, nahi khate bekhabar
roti ko aadmi hi, nahi khate bekhabar
aksar to aadmi ko, aksar to aadmi ko bhi
khati hain rotiyan, khati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan

tujhko pate ki baat bataun main jaan-e-man
kyun chand par pahunchne, ki insan ko hai lagan
kyun chand par pahunchne, ki insan ko hai lagan
insan ko chand me, insan ko chand me
najar aati hain rotiyan, najar aati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan
khud nachti hain, sabko nachati hain rotiyan
nachati hain rotiyan
divana aadmi ko banati hain rotiyan

Official Video

Other Video

No video file selected

Leave a Reply