Happy

Do Deewane Sheher Mein (Gharonda)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Gharonda

Release: 1977

Music Director:Jaidev

Lyrics Gulzar

Singers:Bhupinder Singh, Runa Laila

Lyrics in Hindi

दो दीवाने शहर में

रात में और दोपहर में

आब-ओ-दाना ढूँढते हैं

इक आशियाना ढूँढते हैं

इन भूल-भुलइया गलियों में, अपना भी कोई घर होगा

अम्बर पे खुलेगी खिड़की या, खिड़की पे खुला अम्बर होगा

असमानी रंग की आँखों में

असमानी या आसमानी?

असमानी रंग की आँखों में

बसने का बहाना ढूंढते हैं, ढूंढते हैं

आबोदाना ढूंढते हैं…

दो दीवाने शहर में…

जब तारे ज़मीं पर

तारे, और ज़मीं पर?

Of Course!

जब तारे ज़मीं पर चलते हैं

आकाश ज़मीं हो जाता है

उस रात नहीं फिर घर जाता, वो चांद यहीं सो जाता है

जब तारे ज़मीं पर चलते हैं

आकाश ज़मीं हो जाता है

उस रात नहीं फिर घर जाता, वो चांद यहीं सो जाता है

पल भर के लिये इन आँखों में हम एक ज़माना ढूंढते हैं, ढूंढते हैं

आबोदाना ढूंढते हैं…

दो दीवाने शहर में…

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Leave a Reply