Eighties(1980-89)

Dekha Ek Khwaab (Silsila)

By  | 

Song Info

Movie/Album: Silsila



Release: 1981

Music Director: Hariprasad Chaurasiya, Shiv kumar Sharma

Lyrics Rajinder Kishan, Javed Akhtar, Harivansh rai Bachchan

Singers: Kishore Kumar, Lata Mangeshkar

Lyrics in Hindi

देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिले हुए

दूर तक निगाहों में हैं गुल खिले हुए

ये गिला है आपकी निगाहों से

फूल भी हो दरमियान तो फासले हुए


मेरी साँसों में बसी खुशबू तेरी

ये तेरे प्यार की है जादूगरी

तेरी आवाज़ है हवाओं में

प्यार का रंग है फिजाओं

धडकनों में तेरे गीत हैं मिले हुए

क्या कहूँ की शर्म से हैं लब सिले हुए

देखा एक ख्वाब तो…


मेरा दिल है तेरी पनाहों में

आ छुपा लूँ तुझे मैं बाहों में

तेरी तस्वीर है निगाहों में

दूर तक रौशनी है राहों में

कल अगर ना रौशनी के काफिले हुए

प्यार के हज़ार दीप हैं जले हुए

देखा एक ख्वाब तो…

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Leave a Reply