Romantic

Dil Jo Na Keh Saka- Female (Bheegi Raat)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Bheegi Raat

Release:1965

Music Director: Roshan

Lyrics Sahir ludhiyanvi

Singers: Lata Mangeshkar

Lyrics in Hindi

दिल जो ना कह सका

वही राज-ए-दिल, कहने की रात आई 

नग्मा सा कोई जाग उठा बदन में 

झनकार की सी थरथरी है तन में

प्यार की इन्हीं धड़कती फ़िज़ाओं में

रहने की रात आई…

अब तक दबी थी एक मौज-ए-अरमां

लब तक जो आई, बन गई हैं तूफां

बात प्यार की बहकती निगाहों से

कहने की रात आई…

गुज़रे ना ये शब, खोल दूँ ये जुल्फें

तुम को छुपा लूँ, मूँद के ये पलकें

बेक़रार सी लरज़ती सी छाँव में

रहने की रात आई…

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Leave a Reply