Drama

Duniya Parayi (Darmiyaan: In Between)

By  | 

Movie: Darmiyaan: In Between
Release: 1997
Featuring Actors: Arif Zakaria, Kirron Kher
Music Directors: Bhupen Hazarika
Lyrics: Javed Akhtar
Singers: Bhupen Hazarika
Trivia:

Lyrics in Hindi

दुनिया पराई लोग यहाँ बेगाने
दिल पर जो बीती वो दिल ही जाने
अपने देश में हम है परदेसी
कोई न पहचाने
दुनिया पराई लोग यहाँ बेगाने
दिल पर जो बीती वो दिल ही जाने

कैसा ग़म है क्या मजबूरी है
कैसा ग़म है क्या मजबूरी है
पास है जो उनसे भी दूरी है
दिल यूँ तड़पे जैसे
कोई गूंगा बोलना चाहे
लेकिन सब है अनजाने
अपने ही देश में हम है परेशि
कोई न पहचाने
दुनिया पराई लोग यहाँ बेगाने
दिल पर जो बीती वो दिल ही जाने

कोई बता दे हम क्यों ज़िंदा है
कोई बता दे हम क्यों ज़िंदा है
हम क्यों खुद से भी शर्मिंदा
अपनी ही आँखों से गिरे है
बनके हम एक आसु
मने कोई य नहीं माने
अपने ही देश में हम है परदेसी
कोई न पहचाने
दुनिया पराई लोग यहाँ बेगाने
दिल पर जो बीती वो दिल ही जाने
अपने ही देश में हम है परदेसी
कोई न पहचाने

कोई तो जीने का बहाना हो
कोई तो जीने का बहाना हो
कोई वादा हो जो निभाना हो
कोई सफ़र कोई तो रास्ता
कोई तो मंज़िल हो
सुनले ए दिल दीवाने
अपने देश में हम है परदेसी
कोई न पहचाने
दुनिया पराई लोग यहाँ बेगाने
दिल पर जो बीती वो दिल ही जाने

सोचा है अब दूर चले जाये
सोचा है अब दूर चले जाये
अपने सपनो की दुनिया पाए
उस दुनिया में प्यार के फूल
और खुशियों के मोती है
जो न दिए इस दुनिया ने
अपने ही देश में हम है परदेसी
कोई न पहचाने
दुनिया पराई लोग यहाँ बेगाने
दिल पर जो बीती वो दिल ही जाने
अपने ही देश में हम है परदेसी
कोई न पहचाने.


Lyrics in English

Duniya parai log yaha beganae
Dil par jo beeti wo dil hi jane
Apne desh mein hum hai pardesi
Koi na pahchane
Duniya parayi log yaha begane
Dil par jo biti wo dil hi jane

Kaisa gham hai kya majboori hai
Kaisa gham hai kya majboori hai
Pas hai jo unse bhi doori hai
Dil yun tadpe jaise
Koi gunga bolna chahe
Lekin sab hai anjane
Apne hi desh mein hum hai pareshi
Koi na pahchane
Duniya parayi log yaha begane
Dil par jo beete wo dil hi jane

Koi bata de hum kyun zinda hai
Koi bata de hum kyun zinda hai
Hum kyu khud se bhi sarminda
Apni hi aankho se gire hai
Banke hum ek aasu
Mane koi ya nahi mane
Apne hi desh mein hum hai pardesi
Koi na pahchane
Duniya parai log yaha begane
Dil par jo beete wo dil hi jane
Apne hi desh mein hum hai pardesi
Koi na pahchane

Koi to jine ka bahana ho
Koi to jine ka bahana ho
Koi wada ho jo nibhana ho
Koi safar koi to rasta
Koi to manzil ho
Sunle aye dil deewane
Apne desh mein hum hai pardesi
Koi na pahchane
Duniya parai log yaha begane
Dil par jo beete wo dil hi jane

Socha hai ab door chale jaye
Socha hai ab door chale jaye
Apne sapno ki duniya paye
Us duniya mein pyar ke phul
Aur khushiyo ke moti hai
Jo na diye is duniya ne
Apne hi desh mein hum hai pardesi
Koi na pahchane
Duniya parai log yaha begane
Dil par jo beete wo dil hi jane
Apne hi desh mein hum hai pardesi
Koi na pahchane.

Leave a Reply