Emotional

Ek Akela Is Sheher Mein (Gharonda)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Gharonda

Release: 1977

Music Director:Jaidev

Lyrics Gulzar

Singers:Bhupinder Singh

Lyrics in Hindi

एक अकेला इस शहर में, रात में और दोपहर में

आबोदाना ढूंढ़ता है, आशियाना ढूंढ़ता है

दिन खाली-खाली बर्तन है, और रात है जैसे अँधा कुआं

इन सूनी अँधेरी आँखों में, आंसूं की जगह आता हैं धुंआ

जीने की वजह तो कोई नहीं मरने का बहाना ढूंढ़ता है

एक अकेला इस शहर में…

इन उम्र से लम्बी सड़कों को, मंजिल पे पहुँचते देखा नहीं

बस दौड़ती फिरती रहती हैं, हमने तो ठहरते देखा नहीं

इस अजनबी से शहर में जाना पहचाना ढूंढ़ता है

एक अकेला इस शहर में…

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Leave a Reply