Classical

Ek Chatur Naar (Padosan)

By  | 

Song Info

Movie/Album: Padosan



Release: 1968

Music Director: R.D.Burman

Lyrics Rajendra Krishna

Singers: Manna Dey,Kishore Kumar and Mehmood

Lyrics in Hindi

एक चतुर नार कर के सिंगार
मेरे मन के द्वार ये घुसत जात
हम मरत जात, अरे हे हे हे
यक चतुर नार कर के सिंगार…

प रे स, स स स नि ध स
स रे स ध ध प
प ध स रे स
स रे ग ध प

यक चतुर नर कर के सिंगा… र

हम्म्म्म धम
अय्यो !
अरे धम, ओ धम, ओ धम धम धम रुक

हम्म्म्म ब्रु
ओ अ आ इ ई उ ऊ ए ऐ ओ औ अं अ:
उम नाम नाम नाम नाम नाम नाम
नाम नाम लम लम लम लम ल
उम बल बल बल बल रे,
बल बल बल बल रे, बल बल बल बल रे
ओम

एक चतुर नार बड़ी होशियार
अपने ही जाल में फसत जात
हम हसत जात अरे हो हो हो हो हो !
एक चतुर नार बड़ी होशियर

तू क्यों…
छी रे

तू क्यों गोरी ध्यान करे

करे लाख लाख दुनिया चतुराई
छुट्टी कर दूंगा मैं उसकी
अबके जो आवाज़ लगाई
छुट्टी कर दूंगा, आ आ आ…
ता जुम, तक जुम, तक नुम, यक जुम
तक तन्किदिअ…

पढ़ के बोतन चीर बि चक्कर
हर बुद खुदि-बुदि खुद कर
छिटके तो रेरे मोन माखन
सब चले गये, सब चले गये चिदमुध चितिन्ग चितुबुद
चितुबुद गाय, चितुबुद गाय, चितुबुद हाय हाय हाय

जा रे, जा रे कारे कागा
का का का क्यों शोर मचाये
उस नारी का दास ना बन जो
राह चलत को राह बुलाए

काला रे जा रे जा रे
कारे नाले में जाके तू मुँह धोके आ
काला रे ग रे ग रे

ये गड़बड़ जी
ओ गा रे गा रे
ये सुर बदला
ओ गा रे गा रे
ये हमको भटकाया
ओ गा रे गा रे
ये सुर किधर है जी, ये सुर…; ये…, एन्नाया इधु
येक चतुर नार…
अम छोड़ेगा नहीं जी
येक चतुर नार…
अम पकड़के रखेगा जी

ये घुसत जात
हम मरत जात अरे आ आ आ

नाच न जाने आँगन टेढ़ा

तू क्या जाने क्या है नारी
जिस तन लागे मोरे नैना
उसपे सारी दुनिया वारी

नाच ना जाने, आंगन तेढ़ा
टेएएढ़ा, टेढ़ा टेढ़ा टेढ़ा टेढ़ा
नाच ना जाने, आंगन टेढ़ा
टेढ़ा टेढ़ा टेढ़ा टेढ़ा
उस संग लागे मोरे नैना
अबके जो आवाज़ लगाई

ओ टेढ़े!
ओय
ओ केड़े!
ओ या
अरे सीधे हो जा रे
सीधे हो जा रे
सीधे हो जा
वाह री चंदनिया, वाह रे चकोरे
राम बनाई ये कैसी जोड़ी
करे नचाया ता ता थैय्या
ताल पे नाचे लंगड़ी घोड़ी
अरे देखी
अरे देखी तेरी चतुराई
ये फिर गड़बड़
अरे देखी तेरी चतुराई
फिर भटकाया
तुझे सुरों की समझ नहीं आई
तूने कोरी घास ही खाई
अरे घोड़े!
ये घोड़ा बोला
ओ निगोड़े!
ये गाली दिया
अरे देखी तेरी चतुराई
येक चतुर नार…
घोड़े देखी तेरी चतुराई
येक चतुर नार…
घोड़े देखी तेरी चतुराई
येक चतुर नार…
एक चतुर नार…
एक चतुर नार…
अय्यो घोड़े तेरी…
अरे घोड़े तेरी…
क्या रे ये घोड़ा-चतुर, घोड़ा-चतुर बोला,
येक पे रहना या घोड़ा बोलो या चतुर बोलो… गाओ
एक चतुर नार बड़ी होशियार
अपने ही जाल में फसत जात
एक चतुर नार!
बड़ी होशियारी!
ये घुसत जात
हम मरत जात, मरत जात
ये अटक गया !!!

स रे ग म प, हे आ आ…, हे … … !!!!

Song Trivia

It’s said that Manna Dey was upset that the duet was won by Sunil Dutt on screen, as his part was sung by Kishore Kumar, who didn’t have any classical training.
This hillarious song was recorded only after 12 hrs of rehearsal (9am-9pm). And at the final recording Kishore Kumar played his prank by putting in suddenly….’O tedhe seedhe ho ja re’ (not in the lyrics originally) which took Manna Dey by surprise.But R.D.Burman signalled him to continue.
The song is heavily inspired by 3 songs.’Ek Chatur Naar-Jhoola (1941),’Van Chale Raghu Ram’ Sant Tulsidas (1939) and ‘Chanda re ja re ja re’ Ziddi (1948)
The story has it that in the 1941 starrer ‘Jhoola’ Ashok Kumar sang a few lines just casually.Mehmood and Kishore Kumar were quite young at that time but both of them liked these lines very much.2 decades later when Mehmood made his own film he requested R.D.Burman to pick up these lines and make a full fledged song.Thus R.D.Burman kept the original beginning lines of the song as they were and continued the latter part in his own style.Coincidentally,Mehmood’s father Mumtaz Ali was also one of the actors in the same movie,’Jhoola’.
The link of the Ashok Kumar’s song is given below.

Official Video

Other Renditions

Avid music lover and Dev Anand fan

Leave a Reply