Drama

Ek Ek Zakham Ka (Dav Pech)

By  | 

Song Info

Movie: Dav Pech
Release: 1989
Featuring Actors: Bhanupriya, Chandrashekhar
Music Directors: Anu Malik
Lyrics: Indeevar
Singers: Shailendra Singh
Trivia:

Lyrics in Hindi

सिकन्दर को किसने हराया हैं
सिकंदर को कौन हरायेगा
जब जब शिकंदर आएगा
वक़्त का सर झुक जाएगा

एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब
इनको मैं दूंगा पथ्थर से जवाब
खुद लिखूँगा ज़िन्दगी और मौत की किताब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब

सब कुछ जिसने मेरा छिना
न मुमकिन हैं उसका जीना
सब कुछ जिसने मेरा छिना
न मुमकिन हैं उसका जीना
ख़ाक हो जाएँगे दुश्मन हमारे
दिल में जलाये रखना तू अंगारे
मौत के घात उतार के लेगा डैम दिलेबेटाब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब

फौलादी हियँ मेरे इरादे
किसमें दम हैं मुझको मिटादे
फौलादी हियँ मेरे इरादे
किसमें दम हैं मुझको मिटादे
जो तेरे हम हैं वह मेरे भी हम हैं
तू नहीं तनहा तेरे संग हम हैं
डूब के फिर निकलता हैं आफ़ताब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब
इनको मैं दूंगा पथ्थर से जवाब
खुद लिखूँगा ज़िन्दगी और मौत की किताब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब
एक एक ज़ख़्म का लूँगा मैं हिसाब.

Lyrics in English

Sikandar ko kisane haraya hain
Sikandar ko kaun harayega
Jab jab sikandar aayega
Waqt ka sar jhuk jaayega

Ek ek zakham ka lunga main heesaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab
Int ka main dunga paththar se jawaab
Khud likhunga zindagi aur maut ki kitaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab

Sab kuch jisane mera chhina
Na mumkin hain usaka jeena
Sab kuch jisane mera chhina
Na mumkin hain usaka jeena
Khaak ho jaayege dushman hamare
Dil mein jalaye rakhana tu angaare
Maut ke ghaat utaar ke legaa dam dilebetaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab

Fauladi hian mere iraadein
Kismein dam hain mujhko mittade
Fauladi hian mere iraadein
Kismein dam hain mujhko mittade
Jo tere hum hain woh mere bhi hum hain
Tu nahi tanha tere sang hum hain
Doob ke phir nikalta hain aaftaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab
Int ka main dunga paththar se jawaab
Khud likhunga zindagi aur maut ki kitaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab
Ek ek zakham ka lunga main heesaab.

Official Video

Other Video

No video file selected

Leave a Reply