Drama

Gambler Gambler (Gambler)

By  | 

Movie: Gambler
Release: 1995
Featuring Actors: Govinda, Shilpa Shetty, Aditya Pancholi
Music Director: Anu Malik
Lyrics:  M. G. Hashmat
Singer:  Sadhana Sargam, Vinod Rathod
Trivia:

Lyrics in Hindi

आवारा नहीं नहीं सौदागर नहीं नहीं
दीवाना अरे नहीं नहीं
अनादि खिलाडी जादूगर बाजीगर नहीं नहीं
नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं

ना तू खिलाडी ना तू बाजीगर
ना तू अनाड़ी ना तू जादूगर
जाने तुझे देख कर क्यों लगता है डर
गैम्बलर गैम्बलर तू है गैम्बलर
गैम्बलर गैम्बलर तू है गैम्बलर

दिल को चुरा के अपना बना के
धोखा तू डेगा है मुझे खबर
गैम्बलर गैम्बलर

ना मैं खिलाडी ना मैं बाजीगर
ना मैं अनादी ना मैं जादूगर
जानेमन ो जनेजा कुछ भरोसा कर
गैम्बलर गैम्बलर हा मैं गैम्बलर
गैम्बलर गैम्बलर हा मैं गैम्बलर

दिल को चुरा के अपना बना के
धोखा ना दूँगा ओ बेखबर
गैम्बलर गैम्बलर तू है गैम्बलर

बातों ही बातों में तुम पर
कर लू मै कैसे भरोसा
जिसने किया है भरोसा
होता है उसको ही धोखा
हां मै ऐसा इंसान नहीं हूँ
चाहे मुझे आज़मा ले

आशिक वही जो मोहब्बत में हो
जन अपनी लुटा दे
नजरो में मेरे दिल की जुबान है
देखु तोह पहचान कर
गैम्बलर गैम्बलर तू है गैम्बलर
गैम्बलर गैम्बलर हा मैं गैम्बलर

फिर तोह मुबारक हो तुमको
अब्ब यह मुलाकात मेरी
ले कर करवटे गुज़रेगी ना रात मेरी
यादो को दिल से लगाकर
करना पड़ेगा गुजरा

यादो से मनेगा कैसे
दिल तेरी चाहत का मारा
आँखों के रस्ते तस्वीर
मेरी ले जाना तुम खींचकर
गैम्बलर गैम्बलर हा मैं गैम्बलर
गैम्बलर गैम्बलर हा मैं गैम्बलर

दिल को चुरा के अपना बना के
धोखा ना दूँगा ओ बेखबर.


Lyrics in English

Aawara nahi nahi saudagar nahi nahi
Divana are nahi nahi
Anadi khiladi jadugar bajigar nahi nahi
Nahi nahi nahi nahi nahi nahi

Naa tu khiladi naa tu bajigar
Naa tu anadi naa tu jadugar
Jane tujhe dekh kar kyon lagta hai dar
Gambler gambler tu hai gambler
Gambler gambler tu hai gambler

Dil ko chura ke apna bana ke
Dhokha tu dega hai mujhe khabar
Gambler gambler

Naa main khiladi naa main bajigar
Naa main anadi naa main jadugar
Janeman o janeja kuchh bharosa kar
Gambler gambler ha main gambler
Gambler gambler ha main gambler

Dil ko chura ke apna bana ke
Dhokha naa dunga o bekhabar
Gambler gambler tu hai gambler

Baton hi baton mein tum par
Kar lu mai kaise bharosa
Jisne kiya hai bharosa
Hota hai usko hi dhokha
Haa mai aisa insan nahi hu
Chahe mujhe aajma le

Aashik wahi jo mohabbat me ho
Jan apni luta de
Najaro me mere dil ki juban hai
Dekhu toh pahachan kar
Gambler gambler tu hai gambler
Gambler gambler ha main gambler

Phir toh mubarak ho tumko
Abb yeh mulakat meri
Le kar karwate gujaregi naa raat meri
Yado ko dil se lagakar
Karna padega gujara

Yado se manega kaise
Dil teri chahat kaa mara
Aankho ke raste tasvir
Meri le jana tum khinchakar
Gambler gambler ha main gambler
Gambler gambler ha main gambler

Dil ko chura ke apna bana ke
Dhokha naa dunga o bekhabar.

Leave a Reply