Drama

Haan Ye Bholi Soorat Waale (Char Dil Char Raahein)

By  | 

Movie: Char Dil Char Raahein
Release: 1959
Featuring Actors: Raj Kapoor, Ajit, Shammi Kapoor
Music Directors: Anil Krishna Biswas
Lyrics:
Singers: Lata Mangeshkar, Mohammed Rafi, Rajkumari Dubey, Shiv Dayal Batish
Trivia:

Lyrics in Hindi

हसीनों की अदाएं भी
ज़माने से निराली हैं ऍन ऍन
वफ़ा का नाम होंठों पर है
दिल अंदर से खाली है ऐ
हाँ ये भोली सूरत वाले
दिल का लगाना क्या जाने
हाँ ये भोली सूरत वाले
दिल का लगाना क्या जाने
आजी जब दिल चाहे आ
लगा के आग बुझाना क्या जाने

आए आए नहीं आता है
इस दुनिया में
किसको प्यार का सपना आ
जिसे देखो हथेली पर
लिए फिरता है दिल अपना

हाँ ये दिल की दौलत वाले
दिल का लगाना क्या जाने
हाँ ये दिल की दौलत वाले
दिल का लगाना क्या जाने
इनकी नज़र में खेल है उल्फत
मीट के दिखाना क्या जाने
हाँ ये दिल की दौलत वाले
दिल का लगाना क्या जाने

न होते हम तो आखिर
हुस्नवाले भी कहाँ आँ होते
न रात इतनी हसीन होती
न दिन इतने जवान होते
हमने तो ये एहसान किया है
वो भी कोई एहसान करें
हमने तो ये एहसान किया है
वो भी कोई एहसान करें
होंगे हमारे दिल के टुकड़े
लाख किसी का ध्यान करें
होंगे हमारे दिल के टुकड़े
लाख किसी का ध्यान करें
दर्द बसाकर हंसने वाले
दर्द मिटाना क्या जाने
हाँ ये भोली सूरत वाले
दिल का लगाना क्या जाने

न होते हम तो किसको
जा के दिल देते ये दीवाने
हमारे नाम से मशहूर
हैं उल्फत के अफ़साने
सामने आये क्या मुंह लेकर
अब ये वफ़ा के मतवाले
सामने आये क्या मुंह लेकर
अब ये वफ़ा के मतवाले
प्यार से खाली दिल की दुनिया
और बनें हैं दिल वाले
प्यार से खाली दिल की दुनिया
और बनें हैं दिल वाले
रंग न जिसने देखा उल्फत का
हम वो फ़साना क्या जाने
हाँ ये दिल की दौलत वाले
दिल का लगाना क्या जाने.


Lyrics in English

Haseenon ki adaayen bhi
Zamaane se niraali hain aen aen
Wafaa ka naam honthhon par hai
Dil andar se khaali hai ae
Haan ye bholi soorat waale
Dil ka lagana kya jaane
Haan ye bholi soorat waale
Dil ka lagana kya jaane
Aji jab dil chaha aa
Laga ke aag bujhana kya jaane

Aaa aaa nahin aata hai
Is duniya mein
Kisko pyaar ka sapna aa
Jise dekho hatheli par
Liye phirta hai dil apna

Haan ye dil ki daulat waale
Dil ka lagana kya jaane
Haan ye dil ki daulat waale
Dil ka lagana kya jaane
Inki nazar mein khel hai ulfat
Mit ke dikhana kya jaane
Haan ye dil ki daulat waale
Dil ka lagana kya jaane

Na hote ham to aakhir
Husnwaale bhi kahaan aan hote
Na raat itni haseen hoti ee
Na din itne jawaan hote
Hamne to ye ehsaan kiyaa hai
Wo bhi koi ehsaan karen
Hamne to ye ehsaan kiyaa hai
Wo bhi koi ehsaan karen
Honge hamaare dil ke tukde
Laakh kisi ka dhyaan karen
Honge hamaare dil ke tukde
Laakh kisi ka dhyaan karen
Dard basaakar hansne waale
Dard mitana kya jaane
Haan ye bholi soorat waale
Dil ka lagana kya jaane

Na hote ham to kisko
Jaa ke dil dete ye deewane
Hamaare naam se mashhoor
Hain ulfat ke afsaane
Saamne aaye kya munh lekar
Ab ye wafa ke matwaale
Saamne aaye kya munh lekar
Ab ye wafa ke matwaale
Pyaar se khaali dil ki duniya
Aur banen hain dil waale
Pyaar se khaali dil ki duniya
Aur banen hain dil waale
Rang na jisne dekha ulfat ka
Ham wo fasana kya jaane
Haan ye dil ki daulat waale
Dil ka lagana kya jaane.

Leave a Reply