Drama

Haath Mein Jaam Na Loon (Bandi)

By  | 

Movie: Bandi
Release: 1979
Featuring Actors:

Music Directors: Shyamal Mitra
Lyrics: Indeevar
Singers: Kishore Kumar
Trivia:

Lyrics in Hindi

हाथ में जाम न लूं
जाम का नाम न लूँ
रूप अमृत जो मिले
जहर से काम न लूं
हाथ में जाम न लूं
जाम का नाम न लूँ
रूप अमृत जो मिले
जहर से काम न लूं
हाथ में जाम न लूं

किसी पायल की सदा
किसी आँचल की हवा
ज़िन्दा रखे है मुझे
अफसरो की ऐडा
किसी पायल की सदा
किसी आँचल की हवा
ज़िन्दा रखे है मुझे
अफसरो की ऐडा
मैं हु गुलफ़ाम मगर
जीने का नाम न लूँ
रूप अमृत जो मिले
जहर से काम न लूं
हाथ में जाम न लूं

जो खुदा पूछे मुझे
अरे क्या है डरकर तुझे
जो खुदा पूछे मुझे
क्या है डरकर तुझे
मांगू बस हुस्न का दे
युही दीदार मुझे
जो खुदा पूछे मुझे
क्या है डरकर तुझे
मांगू बस हुस्न का दे
युही दीदार मुझे
मैं तो सकीय के सिवा
कोई इनाम न लूं
रूप अमृत जो मिले
जहर से काम न लूं
हाथ में जाम न लूं

तख्त और ताज सभी
अरे लगते है झुठ मुझे
तख्त और ताज सभी
लगते है झुठ मुझे
ऊँचे महलों की चमक
लगती है लूट मुझे
तख्त और ताज सभी
लगते है झुठ मुझे
ऊँचे महलों की चमक
लगती है लूट मुझे
हसी पहलु जो मिले
कही आराम न लूं
रूप अमृत जो मिले
जहर से काम न लूं
हाथ में जाम न लूं
जाम का नाम न लूँ
रूप अमृत जो मिले
जहर से काम न लूं
हाथ में जाम न लूं.


Lyrics in English

Haath mein jaam na loon
Jaam ka naam na loon
Roop amrit jo mile
Jahar se kaam na loon
Haath mein jaam na loon
Jaam ka naam na loon
Roop amrit jo mile
Jahar se kaam na loon
Haath mein jaam na loon

Kisi payal ki sada
Kisi aanchal ki hawa
Zinda rakhe hai mujhe
Afsarao ki ada
Kisi payal ki sada
Kisi aachal ki hawa
Zinda rakhe hai mujhe
Afsarao ki ada
Main hu gulfam magar
Jine ka naam na loon
Roop amrit jo mile
Jahar se kaam na loon
Haath mein jaam na loon

Jo khuda puchhe mujhe
Are kya hai darkar tujhe
Jo khuda puchhe mujhe
Kya hai darkar tujhe
Mangu bas husn ka de
Yuhi didar mujhe
Jo khuda puchhe mujhe
Kya hai darkar tujhe
Mangu bas husn ka de
Yuhi didar mujhe
Main to saki ke siwa
Koi inam na loon
Roop amrit jo mile
Jahar se kaam na loon
Haath mein jaam na loon

Takhat aur taaj sabhi
Are lagte hai jhuth mujhe
Takhat aur taaj sabhi
Lagte hai jhuth mujhe
Unche mahlo ki chamak
Lagti hai lut mujhe
Takhat aur taaj sabhi
Lagte hai jhuth mujhe
Unche mahlo ki chamak
Lagti hai lut mujhe
Hasi pehlu jo mile
Kahi aaram na loon
Roop amrit jo mile
Jahar se kaam na loon
Haath mein jaam na loon
Jaam ka naam na loon
Roop amrit jo mile
Jahar se kaam na loon
Haath mein jaam na loon.

Leave a Reply