Drama

Hamari Ankhon Se Dil Ke Tukde (Gawaiya)

By  | 

Movie: Gawaiya
Release: 1954
Featuring Actors: Surendra, Sulochana Latkar
Music Director: Ram Ganguly
Lyrics: S. H. Bihari
Singers: Surendra
Trivia:

Lyrics in Hindi

हमारी आँखों से दिल के टुकड़े
हमारी आँखों से दिल के टुकड़े
आवाज़ बनकर निकल रहे है
के आग के करीब रह कर
तेरी जुदाई में जल रहे है
हमारी आँखों से दिल के टुकड़े

हमारी किस्मत से जिंदगी की
कोई तमन्ना हुई न पूरी
हमारी किस्मत से जिंदगी की
कोई तमन्ना हुई न पूरी
हमारे इस नाराज दिल के
हजारों अरमान मचल रहे है
हमारे इस नाराज दिल के
हजारों अरमान मचल रहे है
हमारी आँखों से दिल के टुकड़े

यही तमन्ना है अब हमारी
के आख़िरी बार तुमको देखे
यही तमन्ना है अब हमारी
के आख़िरी बार तुमको देखे
तुम्हारी सूरत देखने को
चराग आँखों में जल रहे है
तुम्हारी सूरत देखने को
चराग आँखों में जल रहे है
हमारी आँखों से दिल के टुकड़े
आवाज़ बनकर निकल रहे है
के आग के करीब रह कर
तेरी जुदाई में जल रहे है
हमारी आँखों से दिल के टुकड़े.


Lyrics in English

Hamari ankhon se dil ke tukde
Hamari ankhon se dil ke tukde
Aawaz bankar nikal rahe hai
Ke aag ke karib rah kar
Teri judai me jal rahe hai
Hamari ankhon se dil ke tukde

Hamari kismat se jindagi ki
Koi tamanna hui na puri
Hamari kismat se jindagi ki
Koi tamanna hui na puri
Hamare is naraj dil ke
Hazaro arman machal rahe hai
Hamare is naraj dil ke
Hazaro arman machal rahe hai
Hamari ankhon se dil ke tukde

Yahi tamanna hai ab hamari
Ke aakhiri bar tumko dekhe
Yahi tamanna hai ab hamari
Ke aakhiri bar tumko dekhe
Tumhari surat dekhne ko
Charag aankho mein jal rahe hai
Tumhari surat dekhne ko
Charag aankho mein jal rahe hai
Hamari ankhon se dil ke tukde
Aawaz bankar nikal rahe hai
Ke aag ke karib rah kar
Teri judai me jal rahe hai
Hamari ankhon se dil ke tukde.

Leave a Reply