Humour

Insan Tha Pehle Bandar (Son Of India)

By  | 



Song Info

Movie:Son Of India
Release: 1962
Featuring Actors: Kamaljeet, Kumkum
Music Director: Naushad
Lyrics: Shakeel Badayuni
Singers: Shanti Mathur
Trivia:

Lyrics in Hindi

कहते थे उस्ताद हमारे,
नाम था जिनका मछंदर
इंसान था पहले बन्दर- ४
लम्बी दुम वाले थे सारे
अपनी पावों के अंदर
इंसान था —2

न कोई जॉन था न कोई अब्दुल
न कोई गोपाल
सबकी सूरत एक जैसी थी
एक थी सबकी चाल -२
नंगे फिरते थे जंगल में
बनके मस्त कॅलन्दर
इंसान था पहले—२

कहते थे उस्ताद हमारे,
नाम था जिनका मछंदर
इंसान था पहले बन्दर- ४

काम किया ये पहला हमने
बन गए जब इंसान
मिटटी के दो चार घरों में
बाँट दिए भगवान -२
किसी ने बोला ऊँचा गिरिजा
किसी ने मस्त समंदर
इंसान था पहले —२
लम्बी दुम वाले थे सारे
अपनी पावों के अंदर
इंसान था —2

कहते थे उस्ताद हमारे,
नाम था जिनका मछंदर
इंसान था पहले बन्दर- ४

भूल गए सब एक दूजे को
बन के आदम ज़ात
कैसे कैसे जाल में फंस गयी
बन्दर की औलाद -२
कोई बना है आज भिखारी
कोई आज सिकंदर
इंसान था पहले —२

कहते थे उस्ताद हमारे,
नाम था जिनका मछंदर
इंसान था पहले बन्दर- ४

Lyrics in English

Kahte the ustad hamare
Naam tha jinka machhandar

Insan tha pehle bandar – 4

Lambi dum wale the sare
Apni pavo ke andar
Insan tha pehle bandar – 2

Na koi john tha na koi abdul
Na koi tha gopal
Sabki surat ek jaisi thi
Ek thi sabki chal – 2

Nange phirte the jangal me
Banke mast kalandar
Insan tha pehle bandar – 2

Kahte the ustad hamare
Naam tha jinka machhandar
Insan tha pehle bandar – 2

Kam kiya ye pahla humne
Ban gaye jab insan
Miti ke do char gharo me
Bant diye bhagwan – 2

Kisi ne bola uncha girja
Kisi ne mast samandar
Insan tha pehle bandar – 2
Lambi dum wale the sare
Apni pavo ke andar

Insan tha pehle bandar – 2
Kahte the ustad hamare
Naam tha jinka machhandar

Insan tha pehle bandar – 2

bhool gaye sab ek duje ko
ban kar adam zaat
kaise kaise jaal mein fans gayi
bandar ki aulad-2
koi bana hai aaj bhikhari
koi aaj sikandar

Insan tha pehle bandar – 2
Kahte the ustad hamare
Naam tha jinka machhandar

Official Video

Other Video

No video file selected

Leave a Reply