Fifties(1950-59)

Jab Naam-E-Mohabbat (Kala Paani)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Kala Paani

Release: 1958

Music Director: S.D.Burman

Lyrics Majrooh Sultanpuri

Singers: Asha Bhonsle

Lyrics in Hindi

जब  नाम- ए- मोहब्बत  ले  के  
किसी  नादा ने  दामन  फैलाया 
पहलु  में  अजब  सा  दर्द  उठा  
पलकों  पे  आसु  धार  आया 
दिल  बैठे  बैठे  भर  आया  
क्या  कहिये  हमें  क्या  याद  आया 
क्या  कहिये  हमें  क्या  याद  आया 
अजी  छोडो  ये  तराना  है  पुराना, 
उल्फत  है दीवानो  का  फ़साना  
जीलो  जीलो  ये  है  जीने  का  ज़माना 
प्यार  ऐसा  कहो  के  वफ़ा  
कैसे  कैसे 
याद  आई  किसीकी  महकी  हुई 
सांसो की  हवा  हलकी  हलकी 
वो  शाम  को  रंगो  के  बादल  
चुनरी  वो  मेरी  ढलकी  ढलकी 
इक  बात  ने  कितना  तड़पाया  
क्या  कहिये  हमें  क्या  याद  आया 
क्या  कहिये  हमें  क्या  याद  आया 
अजी  छोडो  ये  तराना  है  पुराना, 
उल्फत  है दीवानो  का  फ़साना  
जीलो  जीलो  ये  है  जीने  का  ज़माना 
प्यार  ऐसा  कहो  के  वफ़ा  
कैसे  कैसे 
दुनिया  से  ना  रख  उम्मीद ए वफ़ा
जब  युही  किसी  ने  समझाया 
दुनिया  से  ना  रख  उम्मीद ए वफ़ा  
जब  युही  किसी  ने  समझाया 
कुछ  और  बढ़ी  सीने  की  जलन  
कुछ  और  बढ़ा  गम  का  साया 
रह  रहकर  हमें  रोना  आया  
क्या  कहिये  हमें  क्या  याद  आया 

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Avid music lover and Dev Anand fan

Leave a Reply