Drama

Jinhen Ham Bhulana (Aabroo)

By  | 

Movie: Aabroo
Release:  1968
Featuring Actors: Ashok Kumar, Nirupa Roy
Music Directors: Master Sonik, Om Prakash Sonik
Lyrics: G.L. Rawal
Singers:  Mukesh
Trivia:

Lyrics in Hindi

जिन्हें हम भूलना चाहे
वो अक्सर याद आते है
जिन्हें हम भूलना चाहे
वो अक्सर याद आते है
बुरा हो इस मोहब्बत का
बुरा हो इस मोहब्बत का
वो क्यों कर याद आते है
जिन्हें हम भूलना चाहे
वो अक्सर याद आते है

बुलाएं किस तरह उनको
कभी पी थी उन आँखों से
बुलाएं किस तरह उनको
कभी पी थी उन आँखों से
कभी पी थी उन आँखों से
छलक जाते है जब आंसू
छलक जाते है जब आंसू
वो सागर याद आते है
जिन्हें हम भूलना चाहे
वो अक्सर याद आते है

किसी के सुर्ख लब थे या
दिए की लौ मचलती थी
किसी के सुर्ख लब थे या
दिए की लौ मचलती थी
जहा की थी कभी पूजा
जहा की थी कभी पूजा
वो मज़ार याद आते है
जिन्हें हम भूलना चाहे
वो अक्सर याद आते है

रहे ऐ शामा तू रोशन
दुआ देता है परवाना
रहे ऐ शामा तू रोशन
दुआ देता है परवाना
जिन्हे क़िस्मत में जलना है
जिन्हे क़िस्मत में जलना है
वो जल कर याद आते है
जिन्हें हम भूलना चाहे
वो अक्सर याद आते है
बुरा हो इस मोहब्बत का
बुरा हो इस मोहब्बत का
वो क्यों कर याद आते है
जिन्हें हम भूलना चाहे
वो अक्सर याद आते है
जिन्हें हम भूलना चाहे.

Lyrics in English

Jinhe ham bhulana chaahe
Wo aksar yaad aate hai
Jinhe ham bhulana chaahe
Wo aksar yaad aate hai
Bura ho is mohabbat kaa
Bura ho is mohabbat kaa
Wo kyun kar yaad aate hai
Jinhe ham bhulana chaahe
Wo aksar yaad aate hai

Bulaaen kis tarah unako
Kabhi pi thi un aankho se
Bulaaen kis tarah unako
Kabhi pi thi un aankho se
Kabhi pi thi un aankho se
Chhalak jaate hai jab aansu
Chhalak jaate hai jab aansu
Wo saagar yaad aate hai
Jinhe ham bhulana chaahe
Wo aksar yaad aate hai

Kisi ke surkh lab the yaa
Die ki lau machalati thi
Kisi ke surkh lab the yaa
Die ki lau machalati thi
Jahaa ki thi kabhi pujaa
Jahaa ki thi kabhi pujaa
Wo mazar yaad aate hai
Jinhe ham bhulana chaahe
Wo aksar yaad aate hai

Rahe ai shama tu roshan
Duaa deta hai parwana
Rahe ai shama tu roshan
Duaa deta hai parwana
Jinahe qismat me jalanaa hai
Jinahe qismat me jalanaa hai
Wo jal kar yaad aate hai
Jinhe ham bhulana chaahe
Wo aksar yaad aate hai
Bura ho is mohabbat kaa
Bura ho is mohabbat kaa
Wo kyun kar yaad aate hai
Jinhe ham bhulana chaahe
Wo aksar yaad aate hai
Jinhe ham bhulana chaahe.

Leave a Reply