Drama

Kahi Sabar Ki Intaha (Ek Din Ka Badshah)

By  | 

Movie: Ek Din Ka Badshah
Release: 1964
Featuring Actors: Jairaj, Nishi, Jugal Kishore, Sunder
Music Director: Hansraj Behl
Lyrics: Prem Dhawan
Singer: Suman Kalyanpur
Trivia:

Lyrics in Hindi

कही सबर की इंतहा हो न जाये
खुदा के लिए मेरी बाहों में आजा
मेरी जिंदगी का हँसि चाँद बनकर
मेरे दिल की गहराइयो में न जा

मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
अपना बना ले गले से लगा ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले

न जाने मुझे क्या पिलाया है तूने
के मई जगते जगते सो गयी हो
के मई जगते जगते सो गयी हो
तेरे ही सवपन से जागी थी मै तो
तेरे ही सवपन में डुबो गयी हो
तेरे ही सवपन में डुबो गयी हो
तेरे ही कतार में गुम हो गयी हो
मई गुम हो गयी हो
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले

महकते हुए रेशमी गेसुओं से
मेरे हुस्न की लली खिल रही है
मेरे हुस्न की लली खिल रही है
खुदा की कसम जबसे देखा है तुझको
मेरी हर तमना दुल्हन बन रही है
मेरी हर तमना दुल्हन बन रही है
मेरी हर तमना दुल्हन बन रही है
दुल्हन बन रही
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले

सितारों भरी ज़िन्दगी के सफ़र में
तुझे अपनी मंजिल बनाने लगी हु
तुझे अपनी मंजिल बनाने लगी हु
झुके है ज़मी आसमां जिसके आगे
वो सर तेरे दर पर झुकाने लगी हु
वो सर तेरे दर पर झुकाने लगी हु
वो सर तेरे दर पर झुकाने लगी हु
झुकाने लगी हु
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
अपना बना ले गले से लगा ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले
मेरे महबूब मुझे अपना बना ले.


Lyrics in English

Kahi sabar ki intaha ho na jaye
Khuda ke liye meri baho me aaja
Meri jindagi ka hansi chand bankar
Mere dil ki gehraiyo me na ja

Mere mehbub mujhe apna bana le
Mere mehbub mujhe apna bana le
Apna bana le gale se laga le
Mere mehbub mujhe apna bana le
Mere mehbub mujhe apna bana le

Na jane mujhe kya pilaya hai tune
Ke mai jagte jagte so gayi hu
Ke mai jagte jagte so gayi hu
Tere hi savpan se jagi thi mai to
Tere hi savpan me dubo gayi hu
Tere hi savpan me dubo gayi hu
Tere hi katar me gum ho gayi hu
Mai gum ho gayi hu
Mere mehbub mujhe apna bana le
Mere mehbub mujhe apna bana le

Mahakte hue reshmi gesuo se
Mere husn ki lali khil rahi hai
Mere husn ki lali khil rahi hai
Khuda ki kasam jabse dekha hai tujhko
Meri har tamana dulhan ban rahi hai
Meri har tamana dulhan ban rahi hai
Meri har tamana dulhan ban rahi hai
Dulhan ban rahi
Mere mehbub mujhe apna bana le
Mere mehbub mujhe apna bana le

Sitaro bhari zindagi ke safar me
Tujhe apni manjil banane lagi hu
Tujhe apni manjil banane lagi hu
Jhuke hai zami aasma jiske aage
Wo sar tere dar par jhukane lagi hu
Wo sar tere dar par jhukane lagi hu
Wo sar tere dar par jhukane lagi hu
Jhukane lagi hu
Mere mehbub mujhe apna bana le
Mere mehbub mujhe apna bana le
Apna bana le gale se laga le
Mere mehbub mujhe apna bana le
Mere mehbub mujhe apna bana le.

Leave a Reply