Drama

Khudaya Khudaya (Boxer)

By  | 

Movie: Boxer
Release: 1965
Featuring Actors: Dara Singh, Mumtaz
Music Directors: Laxmikant Pyarelal
Lyrics: Asad Bhopali
Singers: Lata Mangeshkar
Trivia:

Lyrics in Hindi

दिन गुजरता है
रात ढलती है
ज़िन्दगी गम के
साथ चलती है
आती है एक ही आवाज़
जब मोहब्बत की
बात चलती है क्या
खुदाया खुडया
मोहब्बत न होती
खुदाया खुडया
मोहब्बत न होती
खुदाया

ये हालात न बनती
ये सूरत न होती
हर एक शाम
सुबह क़यामत न होती
खुदाया खुडया
मोहब्बत न होती
खुदाया खुडया
मोहब्बत न होती
खुदाया

हम तुमको बताये कैसे
हम तुमको बताये कैसे
होते है मोहब्बत वाले
परदे में हसी के चुप कर
रट है मोहब्बत वाले
रट है मोहब्बत वाले
अगर तुम समझते
मोहब्बत का मतलब
अगर तुम समझते
मोहब्बत का मतलब
तो इज़हार करने की
जरुरत न होती
तो इज़हार करने की
जरुरत न होती
खुदाया खुडया
मोहब्बत न होती
खुदाया

इस दिल का बुरा हो जिस ने
इस दिल का बुरा हो जिस ने
हमको न कही का छोड़ा
तुम जैसे वफ़ा दुसमन ने
उमीद का नाता जोड़ा
उमीद का नाता जोड़ा
बहरो ने अपना
नशे में न जलता
बहरो ने अपना
नशे में न जलता
अगर बाग़ बा
से सररत न होती
अगर बाग़ बा
से सररत न होती
खुदाया खुडया
मोहब्बत न होती

हम पर तो फिदा है महफ़िल
हम पर तो फिदा है महफ़िल
जलते है कई रातों से
होती है वो बातें अक्सर
दिल डरता है इन बातों से
दिल डरता है इन बातों से
ये मंज़िल कभी
ज़िन्दगी में न आती
ये मंज़िल कभी
ज़िन्दगी में न आती
अगर दोस्तों की इनायत न होती
अगर दोस्तों की इनायत न होती
खुदाया

ये हालात न बनती
ये सूरत न होती
हर एक सुबह
श्याम न होती
खुदाया खुडया
मोहब्बत न होती
खुदाया मोहब्बत न होती.


Lyrics in English

Din gujarta hai
Raat dhalti hai
Zindagi gum ke
Sath chalti hai
Aati hai ek hi aawaz
Jab mohabbat ki
Baat chalti hai kya
Khudaya khudya
Mohabbat na hoti
Khudaya khudya
Mohabbat na hoti
Khudaya

Ye haalat na banti
Ye surat na hoti
Har ek sham
Subah kayamat na hoti
Khudaya khudya
Mohabbat na hoti
Khudaya khudya
Mohabbat na hoti
Khudaya

Hum tumko bataye kaise
Hum tumko bataye kaise
Hote hai mohabbat vale
Parde me hasi ke chup kar
Rote hai mohabbat vale
Rote hai mohabbat vale
Agar tum samjhte
Mohabbat ka matlab
Agar tum samjhte
Mohabbat ka matlab
To izhar karne ki
Jarurat na hoti
To izhar karne ki
Jarurat na hoti
Khudaya khudya
Mohabbat na hoti
Khudaya

Is dil ka bura ho jis ne
Is dil ka bura ho jis ne
Humko na kahi ka chhoda
Tum jaise wafa dusman ne
Umid ka naata joda
Umid ka naata joda
Baharo ne apna
Nashe man na jalta
Baharo ne apna
Nashe man na jalta
Agar baag ba
Se sararat na hoti
Agar baag ba
Se sararat na hoti
Khudaya khudya
Mohabbat na hoti

Hum par to fida hai mehfil
Hum par to fida hai mehfil
Jalte hai kai raato se
Hoti hai vo baate aksar
Dil darta hai in baato se
Dil darta hai in baato se
Ye manzil kabhi
Zindagi me na aati
Ye manzil kabhi
Zindagi me na aati
Agar dosto ki inayat na hoti
Agar dosto ki inayat na hoti
Khudaya

Ye haalat na banti
Ye surat na hoti
Har ek subah
Shyam na hoti
Khudaya khudya
Mohabbat na hoti
Khudaya mohabbat na hoti.

Leave a Reply