Eighties(1980-89)

Kisi Nazar Ko Tera Intezar Aaj Bhi Hai (Aitbar)

By  | 

Song Info

Movie: Aitbar

Release: 1985



Featuring Actors: Suresh Oberoi, Dimple Kapadia, Raj Babbar

Music Director: Bappi Lahiri

Lyrics: Hasrat Jaipuri

Singers: Asha Bhosle, Bhupinder Singh

Trivia:

Lyrics in Hindi

किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं
किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं
कहा हो तुम के ये दिल बेकरार आज भी हैं
किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं

वो वादियाँ, वो फिजायँ के हम मिले थे जहाँ
वो वादियाँ, वो फिजायँ के हम मिले थे जहाँ
मेरी वफ़ा का वहीं पर मज़ार आज भी हैं
किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं

ना जाने देख के क्यूँ उनको ये हुआ एहसास
ना जाने देख के क्यूँ उनको ये हुआ एहसास
के मेरे दिल पे उन्हे इख्तियर आज भी हैं
किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं

वो प्यार जिसके लिए हमने छोड़ दी दुनिया
वो प्यार जिसके लिए हमने छोड़ दी दुनिया
वफ़ा की रह मे घायल वो प्यार आज भी हैं
वो प्यार जिसके लिए हमने छोड़ दी दुनिया

यकीन नही हैं मगर आज भी ये लगता हैं
यकीन नही हैं मगर आज भी ये लगता हैं
मेरी तलाश मे शायद बाहर आज भी हैं
किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं

ना पुछ कितने मोहब्बत के जख्म खाए हैं
ना पुछ कितने मोहब्बत के जख्म खाए हैं
के जिनको सोचके दिल सो गया और आज भी हैं
वो प्यार जिसके लिए हमने छोड़ दी दुनिया
वफ़ा की रह मे घायल वो प्यार आज भी हैं
किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं
कहा हो तुम के ये दिल बेकरार आज भी हैं
किसी नज़र को तेरा, इंतजार आज भी हैं

ज़िंदगी क्या कोई निसार करे
किसे दुनिया मे कोई प्यार करे
अपना साया भी अपना दुश्मन है
कौन अब किसका ऐतबार करे, ऐतबार करे

Lyrics in English

kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain
kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain
kaha ho tum ke ye dil bekarar aaj bhi hain
kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain

wo wadiya, wo fijaye ke hum mile the jahan
wo wadiya, wo fijaye ke hum mile the jahan
meri wafa ka wahi par majar aaj bhi hain
kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain

na jane dekh ke kyu unko ye hua ehasas
na jane dekh ke kyu unko ye hua ehasas
ke mere dil pe unhe ikhtiyar aaj bhi hain
kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain

wo pyar jiske liye humne chod di duniya
wo pyar jiske liye humne chod di duniya
wafa ki rah me ghayal wo pyar aaj bhi hain
wo pyar jiske liye humne chod di duniya

yakin nahi hain magar aaj bhi ye lagta hain
yakin nahi hain magar aaj bhi ye lagta hain
meri talash me shayad bahar aaj bhi hain
kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain

na puchh kitne mohabbat ke jakhm khaye hain
na puchh kitne mohabbat ke jakhm khaye hain
ke jinko sochke dil so gaya aur aaj bhi hain
wo pyar jiske liye humne chod di duniya
wafa ki rah me ghayal wo pyar aaj bhi hain
kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain
kaha ho tum ke ye dil bekarar aaj bhi hain
kisi nazar ko tera, intajar aaj bhi hain

zindagi kya koi nisar kare
kise duniya me koi pyar kare
apna saaya bhi apna dushman hai
kaun ab kiska aitbar kare, aitbar kare

Official Video

Other Video

No video file selected

2 Comments

  1. Phunujyoti

    April 6, 2017 at 7:25 am

    Nice classical song.

    • Ekta Sharma

      April 10, 2017 at 7:26 pm

      Thanks .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *