Drama

Koyi Kesu Koyi Aachal (Ek Baar Kaho)

By  | 

Movie: Ek Baar Kaho
Release: 1980
Featuring Actors: Navin Nischol, Shabana Azmi
Music Director: Bappi Lahiri
Lyrics: Mahendra Dehlvi
Singer: Jagjit Singh
Trivia:

Lyrics in Hindi

कोई केसु कोई आचल
हमें आवाज न दे
अब्ब किसी आँख का काजल
हमें आवाज न दे

हम है खामोश तोह
खामोश ही रहने दो हमें
कोई आहट कोई हलचल
हमें आवाज न दे

हम ने तन्हाई को
महबूब बना रखा है
राख के ढेर ने शोलो
को दबा रखा है

फिर पुकारा है मोहबत
ने हमें क्या किजये
दी सदा हुस्न की जनत
ने हमें क्या किजये

जिस के साये से भी अक्सर
हमें डर लगता था
छु लिया आखिर उसे
हसरत में क्या किजये

हमने जस्बात के दमन
को बचा रखा है
राख के ढेर ने शोलो
को दबा रखा है

रास आईना कभी
प्यार के हालात हमें
दिल के इस खेल में हर
बार हुयी मत हमें

क्या करेंगे कहा
जायेंगे किधर जायेंगे
दे गयी जबभी दगा
यह मुलाकात हमें

बस इसी सोच ने हमें
दीवाना बना रखा है
राख के ढेर ने शोलो
को दबा रखा है.


Lyrics in English

Koyi kesu koyi aachal
Hame aawaj na de
Abb kisi aakh ka kajal
Hame awaj na de

Ham hai khamosh toh
Khamosh hi rehne do hame
Koyi aahat koyi halchal
Hame awaj na de

Ham ne tanhayi ko
Mehbub bana rakha hai
Rakh ke dher ne sholo
Ko daba rakha hai

Phir pukara hai mohabat
Ne hame kya kijye
Di sada husn ki janat
Ne hame kya kijye

Jis ke saye se bhi aksar
Hame dar lagta tha
Choo liya akhir usey
Hasrat me kya kijye

Hamne jasbat ke daman
Ko bacha rakha hai
Rakh ke dher ne sholo
Ko daba rakha hai

Ras aayena kabhi
Pyar ke halat hame
Dil ke is khel me har
Bar huyi mat hame

Kya karenge kaha
Jayenge kidhar jayenge
De gayi jabbhi daga
Yeh mulakat hame

Bas isi soch ne hame
Deewana bana rakha hai
Rakh ke dher ne sholo
Ko daba rakha hai.

Leave a Reply