Romantic

Maine Ek Khwab Sa Dekha Hai (Waqt)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Waqt
Release: 1965
Music Director: Ravi
Lyrics Sahir Ludhianvi
Singers: Asha Bhonsle and Mahendra Kapoor

Lyrics in Hindi

मैंने एक ख्वाब सा देखा है 
ज़रा मैं भी सुनु 
सुन के शर्मा तो न जाओगी 
मम हम्म तुमसे नहीं 
मैंने देखा है फूलों से लड़ी शाखों में
तुम लचकती हुई मेरे करीब आई हो  
आआअ 
जैसे मुद्दत से युहीं साथ रहा हो अपना
जैसे अबकी नहीं सदियों की शनासाई हो
मैंने भी ख्वाब सा देखा है
कहो,तुम भी कहो
खुद पे इतरा तो न जाओगे
नहीं खुद पे नहीं
मैंने देखा की गाते हुए झरनों के करीब
अपनी बेताबी जज़्बात कही है तुमने
हम्म हम्म 
कापते होठों से रूकती हुई आवाज़ के साथ
जो मेरे दिल में थी वही बात कही है तुमने
हम्म हम्म हम्म मम्म 
आंच देने लगा कदमों के तले बर्फ का फर्श
आज जाना की मोहब्बत में है गर्मी कितनी
हम्म हम्म हम्म्म हम्म्म 
हम चले जाते हैं और दूर तलाक कोई नहीं 
हम चले जाते हैं और दूर तलाक कोई नहीं
सिर्फ पत्तों के चटकने की सदा आती है
दिल में कुछ ऐसे ख़यालात ने करवट ली है
मुझको तुम से नहीं अपने से हया आती है
हम्म्म हम्म हम्म हम्म्म 
मैंने देखा की कोहरे से भरी वादी में
मैं ये कहता हूँ चलो आज कहीं खो जाएँ
हम्म हम्म हह्म्म्म हम्म 
मैं ये कहती हूँ की खोने के ज़रुरत क्या है
ओढ़ कर धुंध की चादर को यहीं सो जाएँ
हम्म हम्म हम्म हम्म हम्म्म हम्म्म्म .......

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Avid music lover and Dev Anand fan

Leave a Reply