Drama

O Maalik Kya Rang (Golconda Ka Qaidi)

By  | 

Movie: Golconda Ka Qaidi
Release: 1954
Featuring Actors: Premnath, Bina Rai
Music Director: Datta Davjekar, Jagannath
Lyrics: Prakash Saathi, Kaif Irfani
Singer: Geeta Dutt
Trivia:

Lyrics in Hindi

ओ मालिक क्या रंग दिखाए
उजड़ गए घर बसे बसाए
टीस उठी है याद किसी की
मेरे नहीं यह सली
ढूंढ रही है आज पनहे
नाज़ो पाली जवानी

बेघर बेदार आज हुयी है
चौक तक निराली
ज़िंदा लाश बनी फिरती है
प्यार में पली यह जवानी

जिन गलियों में खेले कूदे
पल कर हुए जवान
वो गालिया ही बन गयी देखो
पल में चिता सामान
ऐसी उलटी चली हवाएँ
मौत ने गाये राग
घर घर भडके आग के शोले
पागल हो गयी आग
आँखों ने कुछ आंसू थे
और हाथ में गीली मेहंदी
आहो की शहनाई बजी है
सेज बिछी लाशो की
कैसी यह तक़दीर लिखी है
ओ तक़दीर के मालिक
आ सकती वतन यह पहले
हम आज़ाद हो पीछे.


Lyrics in English

O maalik kya rang dikhaye
Ujad gaye ghar base basaye
Tees uthi hai yaad kisi ki
Mere nahi yeh sali
Dhund rahi hai aaj panahe
Nazo pali jawani

Beghar bedar aaj huyi hai
Chok tak nirali
Zinda lash bani firti hai
Pyar mein pali yeh jawani

Jin galiyo mein khele kude
Pal kar huye jawan
Wo galiya hi ban gayi dekho
Pal mein chita saman
Aisi ulti chali hawaye
Maut ne gaye rag
Ghar ghar bhadke aag ke shole
Pagal ho gayi aag
Aankhon ne kuch aansu the
Aur hath mein gili mehandi
Aaho ki shanayi baji hai
Sej bichhi lasho ki
Kaisi yeh taqdeer likhi hai
O taqdeer ke maalik
Aa sakti watan yeh pehle
Hum aazad ho pichhe.

Leave a Reply