Eighties(1980-89)

Pag Ghungroo Baandh (Namak Halal)

By  | 

Movie: Namak Halal



Release: 1982

Featuring Actors: Amitabh Bachchan, Smita Patil, Shashi Kapoor, Parveen Babi, Waheeda Rehman

Music By: Bappi Lahiri

Lyrics By: Anjaan

Singers: Kishore Kumar

Lyrics in Hindi

बुज़ुर्गों ने

बुज़ुर्गों ने, फरमाया की पैरों पे अपने खड़े होके दिखलाओ

फिर यह ज़माना तुम्हारा है

ज़माने के सुर ताल के साथ चलते चले जाओ

फिर हर तराना तुम्हारा फसाना तुम्हारा है

अरे तो लो भैया हम

अपने पैरों के ऊपर खड़े हो गये

और मिलाली है ताल

दबालेगा दातों तले उंगलियाँ,लियान

ये जहाँ देखकर,देखकर अपनी चाल

वाह वाह वाह वाह

धनवाद

की पग घुँगरू

की पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी -2

और हम नाचें बिन घुँगरू के

की पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

वो तीर भला, किस काम का है

जो तीर निशाने से चूके चूके चूके रे!

की पग घुँगरू..

पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

नाची थी नाची थी नाची थी

की पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

आप अंदर से कुछ और

बाहर से कुछ और नज़र आते हैं

बखुदा शकल से तो चोर नज़र आते हैं

उमर गुज़री है सारी चोरी में

सारे सुख चैन बंद जुर्म की तिजोरी में

(आप का तो लगता है बस यही सपना

राम नाम जपना पराया माल अपना) -2

वतन का खाया नमक तो नमक हलाल बनो

फ़र्ज़ ईमान की ज़िंदा यहाँ मिसाल बनो

पराया धन पराई नार पे नज़र मत डालो

बुरी आदत है यह आदत अभी बदल डालो

क्योंकि यह आदत तो वो आग है जो

इक दिन अपना घर फूँके फूँके फूँके रे!

की पग घुँगरू..

पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

नाची थी नाची थी नाची थी

की पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

मौसम-ए-इश्क़ में मचले हुए अरमान हैं हम

दिल को लगता है के दो जिस्म एक जान है हम

ऐसा लगता है तो लगने में कुछ बुराई नहीं

दिल यह कहता है आप अपनी हैं पराई नहीं

संगे मरमर की हाय , कोई मूरत हो तुम

बढ़ी दिलकश बढ़ी, खूबसूरत हो तुम

दिल दिल से मिलने का कोई महूरत हो प्यासे दिलों की ज़रूरत हो तुम

दिल चीर के दिखलादून मैं दिल में यहीं सूरत हसीन

क्या आपको लगता नहीं हम हैं मिले पहले कहीं

क्या देश है क्या जात है

क्या उम्र है क्या नाम है

अरे छोड़िए इन बातों से हमको भला क्या काम है

अजी सुनिए तो

हम आप मिलें तो फिर हो शुरू अफ़साने लैला मजनू लैला मजनू के

की पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

और हम नाचें बिन घुँगरू के

की पग घुँगरू बाँध मीरा नाची थी

Lyrics in English

Buzurgon ne

Buzurgon ne, farmaya ki pairon pe apne khade hoke dikhlaao

Phir yeh zamaana tumhaara hai

Zamaane ke sur taal ke saath chalte chale jaao

Phir har taraana tumhaara fasaana tumhaara hai

Arey to lo bhaiya hum

Apne pairon ke oopar khade ho gaye

Aur milali hai taal

Dabaalega daaton tale ungliyan,liyan

Yeh jahan dekhkar,dekhkar apni chaal

Wah wah wah wah

Dhanvad

Ki pag ghungroo

Ki pag ghungroo baandh meera naachi thi… (2)

Aur hum naachen bin ghungroo ke

Ki pag ghungroo baandh meera naachi thi

Woh teer bhalaa, kis kaam ka hai

Jo teer nishaaane se chooke chooke chooke re!

Ki pag ghungroo…

pag ghungroo baandh meera naachi thi..

pag ghungroo baandh meera naachi thi..

naachi thi naachi thi naachi thi.

Ki pag ghungroo baandh meera naachi thi

Aap andar se kuch aur

Bahar se kuch aur nazar aate hain

Bakhuda shakal se to chor nazar aate hain

Umar guzari hai saari chori mein

Saare sukh chain band jurm ki tijori mein

Aap ka to lagta hai bas yahi sapna

Ram naam japna paraya maal apna… (2)

Watan ka khaaya namak to namak halaal bano

Farz imaan ki zinda yahaan misaal bano

Paraya dhan parayi naar pe nazar mat dalo

Buri aadat hai yeh aadat abhi badal dalo

Kyonke yeh aadat to woh aag hai jo

Ik din apna ghar phoonke phoonke phoonke re!

Ki pag ghungroo…

pag ghungroo baandh meera naachi thi..

pag ghungroo baandh meera naachi thi..

naachi thi naachi thi naachi thi.

Ki pag ghungroo baandh meera naachi thi

Mausam-e-ishq mein machale huwe armaan hain hum

Dil ko lagta hai ke do jism ek jaan hai hum

Aisa lagta hai to lagne mein kuchh buraayi nahin

Dil yeh kehta hai aap apni hain paraayi nahin

Sange marmar ki hai, koi moorat ho tum

Badhi dilkash badhi, khubsoorat ho tum

Dil dil se milne ka koi mahoorat ho pyaase dilon ki zaroorat ho tum

Dil cheer ke dikhladoon maein dil mein yahin soorat haseen

Kya aapko lagta nahin hum hain mile pehle kahin

Kya desh hai kya jaat hai

Kya umra hai kya naam hai

Are chhodhiye in baaton se humko bhala kya kaam hai

Aji suniye to

Hum aap milen to phir ho shuroo afsaane laila majnoo laila majnu ke

Ki pag ghungroo baandh meera naachi thi

Aur hum naachen bin ghungroo ke

Ki pag ghungroo baandh meera naachi thi

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Passionate about watching movies and loves listening to songs.

    Leave a Reply