Drama

Paise Ke Kya Kahne (Ghulam Begum Badshah)

By  | 

Movie: Ghulam Begum Badshah
Release: 1956
Featuring Actors: Daljit, Nishi Kohli
Music Director: Sudipto Chattopadhyaya
Lyrics: Shyam Hindi
Singer: Hemanta Kumar Mukhopadhyay
Trivia:

Lyrics in Hindi

पैसे के क्या कहने पैसा पीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है
पैसे के क्या कहने पैसा पीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है

जिसको चाहे इज़त दे
कर दुनिया का सर ताज करे
जिसको चाहे ज़िलत दे
कर रोटी से मोहताज़ करे
रोटी से मोहताज़ करे
हाथ में इसके दो
धरी शमशीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है
पैसे के क्या कहने पैसा पीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है

आज अयेस कल जाये फिर भी
लोग इसी को प्यार करे इसकी
खातिर जान लड़ाए एक दूजे पे
वार करे एक दूजे पे वार करे
ये के चलती फिरी सी तस्वीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है
पैसे के क्या कहने पैसा पीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है

हर मुश्किल है अंसा उसकी
जिसके पल्ले पैसा है
अनहोनी को होनी करदे ज़ोर
इसमें ऐसा ही हो
ज़ोर इसमें ऐसा है
जिसकी छन छन
चं में वो तासीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है
पैसे के क्या
केहने पैसा पीर है
ये जिसका बन जाये वो तक़दीर है.


Lyrics in English

Paise ke kya kehne paisa peer hai
Ye jiska ban jaye wo takder hai
Paise ke kya kehne paisa peer hai
Ye jiska ban jaye wo takder hai

Jisko chahe izat de
Kar duniya ka sar taj kare
Jisko chahe zilat de
Kar roti se mohtaj kare
Roti se mohtaj kare
Hath me iske do
Dhari shamshir hai
Ye jiska ban jaye wo takder hai
Paise ke kya kehne paisa peer hai
Ye jiska ban jaye wo takder hai

Aaj ayes kal jaye phir bhi
Log isi ko pyar kare iski
Khatir jan ladaye ek duje pe
War kare ek duje pe war kare
Ye ke chalti phiri si tasver hai
Ye jiska ban jaye wo takdir hai
Paise ke kya kehne paisa peer hai
Ye jiska ban jaye wo takder hai

Har mushkil hai ansa uski
Jiske palle paisa hai
Anhoni ko honi karde zor
Isme aisa hai ho
Zor isme aisa hai
Jiski chan chan
Chan me vo tasir hai
Ye jiska ban jaye wo takdir hai
Paise ke kya
Kehne paisa peer hai
Ye jiska ban jaye wo takdir hai.

Leave a Reply