Drama

Palkon Pe Chalte Chalte (Daayraa)

By  | 

Movie: Daayraa
Release: 1997
Featuring Actors: Nirmal Pandey, Sonali Kulkarni
Music Directors: Anand Milind
Lyrics: Gulzar
Singers:  K. J. Yesudas
Trivia:

Lyrics in Hindi

पलकों पे चलते चलते
जब उन्हें लगती हैं
सो जाके सोती हैं तो
उड़ने लगती हैं
पलकों पे चलते चलते
जब उन्हें लगती हैं
सो जाके सोती हैं तो
उड़ने लगती हैं
सोंधे से आकाश पे
नीले बाज़ारे बहाते हैं
आँखें जैसी आँखें
सपने चुभने लगती हैं

पलकों पे चलते चलते
जब उन्हें लगती हैं
सो जाके सोती हैं तो
उड़ने लगती हैं
सोंधे से आकाश पे
नीले बाज़ारे बहाते हैं
आँखें जैसी आँखें
सपने चुभने लगती हैं

पीगली हुयी हैं गीली चाँदनी
काची रात का सपन आये
थोड़ी सी जागी थोड़ी सोयी
नींद में कोई अपनाये
नींद में हलकी खुश्बुओंसी सी
घुलने लगती हैं
सो जाके सोती हैं तो
उड़ने लगती हैं
सोंधे से आकाश पे
नीले बाज़ारे बहाते हैं
आँखें जैसी आँखें
सपने चुभने लगती हैं

आँखों से केहना लोरी में बहना
रातों का कोई चोर नहीं
तेरे तो और भी होंगे सपने
मेरा तो कोई और नहीं
बोलती आँखें नींद में
सपने सुनाने लगती हैं
सो जा आँखें सोती हैं तो
उड़ने लगती हैं
सोंधे से आकाश पे
नीले बाज़ारे बहाते हैं
आँखें जैसी आँखें
सपने चुभने लगती हैं

सो जा आँखें सोती हैं तो
उड़ने लगती हैं
सोंधे से आकाश पे
नीले बाज़ारे बहाते हैं
आँखें जैसी आँखें
सपने चुभने लगती हैं.


Lyrics in English

Palkon pe chalte chalte
Jab unhein lagti hain
So jaake soti hain to
Udane lagati hain
Palkon pe chalte chalte
Jab unhein lagti hain
So jaake soti hain to
Udane lagati hain
Sondhe se aakash pe
Neele bazare behate hain
Aankhein jaisi aankhein
Sapne chubhane lagati hain

Palkon pe chalte chalte
Jab unhein lagti hain
So jaake soti hain to
Udane lagati hain
Sondhe se aakash pe
Neele bazare behate hain
Aankhein jaisi aankhein
Sapne chubhane lagati hain

Peegali huyi hain geeli chandani
Kachi raat ka sapan aaye
Thodi si jaagi thodi soyi
Neend mein koi apnaye
Neend mein halki khusbooye si
Ghulane lagati hain
So jaake soti hain to
Udane lagati hain
Sondhe se aakash pe
Neele bazare behate hain
Aankhein jaisi aankhein
Sapne chubhane lagati hain

Aankhon se kehana lori mein behana
Raaton ka koi chor nahi
Tere to aaur bhi honge sapane
Mera to koi aur nahi
Bolti aankhein neenda mein
Sapane sunane lagati hain
So jaa aankhein soti hain to
Udane lagati hain
Sondhe se aakash pe
Neele bazare behate hain
Aankhein jaisi aankhein
Sapne chubhane lagati hain

So jaa aankhein soti hain to
Udane lagati hain
Sondhe se aakash pe
Neele bazare behate hain
Aankhein jaisi aankhein
Sapne chubhane lagati hain.

Leave a Reply