Eighties(1980-89)

Raah Pe Rehte Hain (Namkeen)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Namkeen

Release: 1982

Music Director: R.D.Burman

Lyrics Gulzar

Singers: Kishore Kumar

Lyrics in Hindi

राह पे रहते हैं यादों पे बसर करते हैं
खुश रहो अहले वतन हो हम तो सफर करते हैं

जल गये जो धूप में तो साया हो गये
आसमाँ का कोई कोना ले थोड़ा सो गये
जो गुज़र जाती है बस उसपे गुज़र करते हैं
हो राह पे रहते हैं यादों पे बसर करते हैं
खुश रहो अहले वतन हो हम तो सफर करते हैं

उड़ते पैरों के तले जब बहती हैं ज़मीन
मुड़के हमने कोई मंज़िल देखी ही नहीं
रात दिन राहों पे हम शामो सहर करते हैं
हो राह पे रहते हैं यादों पे बसर करते हैं
खुश रहो अहले वतन हो हम तो सफर करते हैं

ऐसे उजाड़े आशियाँ में तिनके उड़ गये
हो ऐसे उजाड़े आशियाँ में तिनके उड़ गये
बस्तियों तक आते आते रास्ते मुड़ गये
हम ठहर जायें जहाँ उसको शहर कहते हैं
हो राह पे रहते हैं यादों पे बसर करते हैं
खुश रहो अहले वतन हो हम तो सफर करते हैं

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Avid music lover and Dev Anand fan

Leave a Reply