Drama

Saaqi Saaqi Dil Bujh Hi (Geet)

By  | 

Movie: Gawaiya
Release: 1944
Featuring Actors: Shahu Modak, Nirmala
Music Director: Naushad Ali
Lyrics: D. N. Madhok
Singers: Zohrabai Ambalewali
Trivia:

Lyrics in Hindi

साकी साकी
दिल बुझ ही गया है सीने में
कुछ लुत्फ़ नहीं अब जीने में
साकी साकी

साकी तेरे जाम वो जाम नहीं
क्या रखा है अब पीने में
साकी तेरे जाम वो जाम नहीं
क्या रखा है अब पीने में
साकी साकी

साक़ी पहली सी बात नहीं
पहले दिन पहली रात नहीं
जब तेरा ही वो हाथ नहीं
जब तेरा ही वो हाथ नहीं
क्या रखा है फिर सीने में
साकी साकी

अब सावन के दिन बीत गए
हम हार गए तुम जीत गए
साक़ी जब छोड़ के मिटत गए
साक़ी जब छोड़ के मिटत गए
कुछ लुत्फ़ नहीं फिर जीने में
साकी साकी

दिल बुझ ही गया है सीने में
कुछ लुत्फ़ नहीं अब जीने में
साकी साकी.


Lyrics in English

Saaqi saaqi
Dil bujh hi gayaa hai sine mein
Kuchh lutf nahi ab jeene mein
Saaqi saaqi

Saaqi tere jaam wo jaam nahi
Kya rakhaa hai ab peene mein
Saaqi tere jaam wo jaam nahi
Kya rakhaa hai ab peene mein
Saaqi saaqi

Saaqi pahali si baat nahi
Pahale din pahali raat nahi
Jab teraa hi wo haath nahi
Jab teraa hi wo haath nahi
Kyaa rakhaa hai phir sine mein
Saaqi saaqi

Ab saawan ke din beet gaye
Ham haar gaye tum jeet gaye
Saaqi jab chhod ke mitt gaye
Saaqi jab chhod ke mitt gaye
Kuchh lutf nahi phir jeene me
Saaqi saaqi

Dil bujh hi gayaa hai sine mein
Kuchh lutf nahi ab jeene mein
Saaqi saaqi.

Leave a Reply