Drama

Sar Jhuka Nazar Utha (Gautam Govinda)

By  | 

Movie: Gautam Govinda
Release: 1979
Featuring Actors: Shashi Kapoor, Shatrughan Sinha, Moushumi Chatterjee
Music Director: Laxmikant Pyarelal
Lyrics: Anand Bakshi
Singer:  Lata Mangeshkar, Manna Dey
Trivia:

Lyrics in Hindi

ये नज़र उठ गयी तो क्या होगा
मेरे आशिक का सर झुका होगा
ये नज़र उठ गयी तो क्या होगा
मेरे आशिक का सर झुका होगा
ये नज़र उठ गयी तो क्या होगा

मोहब्बत आप का शाहिब
गरीबा साफ करदेगी
शम्मा अपने दीवाने को
जला कर राख कर देगी
आपसे हमको जो शिकायत है
आपको हमसे वो गिला होगा
ये नज़र उठ गयी तो क्या होगा
मेरे आशिक का सर झुका होगा
ये नज़र उठ गयी तो क्या होगा

ये दर्द ये जिन्दी का गम
हमे नहीं तेरी कसम
चाहे कटले आम कर सर झुका
बाजब सलाम कर सर
झुका ये नज़र उठा

तू है मगरूर बेखबर है तू
उस पे गुस्ताक इस कदर है तू
तू है मगरूर बेखबर है तू
उस पे गुस्ताक इस कदर है तू
बात करती है तू आसमानो से
और बैठी है जमीं पर तू
तू है मगरूर बेखबर है तू
उस पे गुस्ताक इस कदर है तू

अजीब जाल है अगर
सामने से तू गुजर
अपने दिल को थाम कर
मजा ले सबब का कुछ
तो ऐश आराम कर
मजा ले सबब का कुछ
तो ऐश आराम कर
कुछ तो ऐश आराम कर
अरे फ़िक्र अपनी छोडे
मेरा विकलप सुभो शम कर
सर झुकाए बैठा
बेखबर सलाम कर
सर झुकाए बैठा.


Lyrics in English

Ye nazar uth gayi to kya hoga
Mere aashik ka sir jhuka hoga
Ye nazar uth gayi to kya hoga
Mere aashik ka sir jhuka hoga
Ye nazar uth gayi to kya hoga

Mohabbat aap ka shahib
Gariba saf kardegi
Shamma apne deewane ko
Jala kar raakh kar degi
Aapse humko jo shikayat hai
Aapko humse vo gila hoga
Ye nazar uth gayi to kya hoga
Mere aashik ka sir jhuka hoga
Ye nazar uth gayi to kya hoga

Ye dard ye jindi ka gam
Hume nahi teri kasam
Chahe katale aam kar sir jhuka
Beajab salam kar sir
Jhuka ye nazar utha

Tu hai magrur bekhabar hai tu
Us pe gustak is kadar hai tu
Tu hai magrur bekhabar hai tu
Us pe gustak is kadar hai tu
Baat karti hai tu aasmano se
Or baithi hai jamin par tu
Tu hai magrur bekhabar hai tu
Us pe gustak is kadar hai tu

Ajib jaal hai ager
Samane se tu gujar
Apne dil ko tham kar
Maja le sabab ka kuchh
To ash aram kar
Maja le sabab ka kuchh
To ash aram kar
Kuchh to ash aram kar
Arey fikar apni chhode
Mera vikalap subho sham kar
Sir jhukaye baitha
Bekhaber salam kar
Sir jhukaye baitha.

Leave a Reply