Fifties(1950-59)

Shama Ye Pyaar Ka Bahar (Baghi Sipahi)

By  | 

Movie: Baghi Sipahi
Release: 1958
Featuring Actors: Madhubala, Chandrashekhar
Music Directors: Shankar Jaikishan
Lyrics: Shailendra
Singers: Asha Bhosle, Manna Dey
Trivia:

Lyrics in Hindi

शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले
ऐसी में निकलो न
झूम के अकेले
दिन में भी आजकल दर
है दिलो के चोर जा
दिल को जी हम तो
उछलते चलेगने
बहके निगाह तो
सँभालते चलेगने
हम पे चलता नहीं
जादू नजर की डोर का
शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले
ऐसी में निकलो न
झूम के अकेले
दिन में भी आजकल दर
है दिलो के चोर जा
शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले

आप हमारे लिए
क्यों परेशान है
क्यों हुज़ूर हमपे
इतने मेहरबान है
क्यों हुज़ूर हमपे
इतने मेहरबान है
शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले
ऐसी में निकलो न
झूम के अकेले
दिन में भी आजकल दर
है दिलो के चोर जा
शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले

दुनिआ हमारी
दुनिआ हमारी जो
परायी हो जाएगी
आपके खेल में
हमारी जान जायेगी
आपके खेल में
हमारी जान जायेगी
दिल को जी हम तो
उछलते चलेगने
बहके निगाह तो
सँभालते चलेगने
हम पे चलता नहीं
जादू नजर की डोर का
शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले

आपके दिल में है
चोरी हम जान गए
हम भी आपकी
निगाहे पहचान गए
हम भी आपकी
निगाहे पहचान गए
आपके दिल में है
चोरी हम जान गए
हम भी आपकी
निगाहे पहचान गए
हम भी आपकी
निगाहे पहचान गए
शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले
ऐसी में निकलो न
झूम के अकेले
दिन में भी आजकल
दर है दिलो के चोर जा
शमा ये प्यार का
बहार के ये मेले.


Lyrics in English

Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele
Aisi me niklo na
Jhum ke akele
Din me bhi ajkal dar
Hai dilo ke chor ja
Dil ko ji hum to
Uchalte chalegne
Bahke nigah to
Sambhalte chalegne
Hum pe chalta nahi
Jadu najar ki dor ka
Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele
Aisi me niklo na
Jhum ke akele
Din me bhi ajkal dar
Hai dilo ke chor ja
Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele

Aap hamare liye
Kyu paresan hai
Kyu huzur hampe
Itne meharban hai
Kyu huzur hampe
Itne meharban hai
Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele
Aisi me niklo na
Jhum ke akele
Din me bhi ajkal dar
Hai dilo ke chor ja
Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele

Dunia hamari
Dunia hamari jo
Parayi ho jayegi
Aapke khel me
Hamari jan jayegi
Aapke khel me
Hamari jan jayegi
Dil ko ji hum to
Uchalte chalegne
Bahke nigah to
Sambhalte chalegne
Hum pe chalta nahi
Jadu najar ki dor ka
Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele

Aapke dil me hai
Chori hum jan gaye
Hum bhi aapki
Nigahe pahchan gaye
Hum bhi aapki
Nigahe pahchan gaye
Aapke dil me hai
Chori hum jan gaye
Hum bhi aapki
Nigahe pahchan gaye
Hum bhi aapki
Nigahe pahchan gaye
Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele
Aisi me niklo na
Jhum ke akele
Din me bhi ajkal
Dar hai dilo ke chor ja
Shama ye pyar ka
Bahar ke ye mele.

Leave a Reply