Drama

Sharminda Hoon (Ekk Deewana Tha)

By  | 

Movie: Ekk Deewana Tha
Release: 2012
Featuring Actors: Prateik, Amy Jackson
Music Director: A.R. Rahman
Lyrics: Javed Akhtar
Singer: A.R. Rahman, Madhushree
Trivia:

Lyrics in Hindi

मैं इक लहर हूँ जो
समय की नदी से
बस तुमसे मिलने
किनारे थी आयी
मगर जो भी हो
हर इक लहर को
मिट जाना है
नदी में ही जा के
हम्म ू हम्म
हम्म ू हम्म

तुमको मैंने
चाहा भी है
तुम्ही को मैंने
ग़म भी दिए
शर्मिंदा हूँ
शर्मिंदा हूँ
शर्मिंदा हूँ

तुमको मैंने
चाहा भी है
तुम्ही को मैंने
गम भी दिए
शर्मिंदा हूँ
शर्मिंदा हूँ
सच कहती हूँ
दिल ही दिल में
शर्मिंदा हूँ

दुनिया जो चाहे कह ले
पर तुझको मिलने से पहले
खुद से भी ना
मिल सका था मैं
खोया सा था मैं
उलझा सा था
की तुझ बिन मेरी
न थी कोई राहिएँ
मेरी ज़िन्दगी
तुझ बिन थी जैसे
ओस की बूँद पट्टी से
अब गिरी अब गिरी ओह हो हो
ओस की बूँद पट्टी से
अब गिरी अब गिरी

मैनगारसाँस थी
तुम खुशबू थे
कैसे कैसे पल पल यादों के
तुम्हे ऐसे खो के
अकेले मैं ज़िंदा हूँ क्यों

कागज़ था मैं हवा में उड़ता
तूने मुझ पे जाने क्या लिख दिया
मुझको अब्ब तोह नए
शब्द है मिल गए
ये शब्द ये प्यार के

तुमको मैंने चाहा भी है
तुम्ही को मैंने गम भी दिए
शर्मिंदा हूँ
शर्मिंदा हूँ
सच कहती हूँ
दिल ही दिल में
शर्मिंदा हूँ

सितारों से आगे
जहां और भी है
अभी इश्क के इम्तेहान
और भी है और भी है
तू शाहीं है परवाज़ है
काम तेरा तेरे
सामने आसमां और भी
सितारों से आगे
जहां और भी है

तुम हो सच की
हो कोई परछाई
क्या तुम एक ख्वाब
हो जो कहीं नहीं
भीगी है पलके मेरी
तकिये है मेरे नुम
तुम ही बताओ मुझको
कैसे भुलाउं यह

तुमको मैंने चाहा भी है
तुम्ही को मैंने गम भी दिए
शर्मिंदा हूँ
शर्मिंदा हूँ
शर्मिंदा हूँ

दुनिया जो चाहे कह ले
पर तुझको मिलने से पहले
खुद से भी ना
मिल सका था मैं
खोया सा था
मैं उलझा सा था
की तुझ बिन मेरी
न थी कोई राहिएँ
मेरी ज़िन्दगी तुझ
बिन थी जैसे
ओस की बूँद पट्टी
से अब गिरी अब गिरी
मेरी ज़िन्दगी थी
ओस की बूँद पट्टी
से अब गिरी अब गिरी
मेरी ज़िन्दगी थी
ओस की बूँद पट्टी
से अब गिरी अब गिरी.


Lyrics in English

Main ik lehar hoon jo
Samay ki nadi se
Bas tumse milne
Kinaare thi aayi
Magar jo bhi ho
Har ik lehar ko
Mit jaana hai
Nadi mein hi jaa ke
Hmm oo hmm
Hmm oo hmm

Tumko maine
Chaha bhi hai
Tumhi ko maine
Gham bhi diye
Sharminda hoon
Sharminda hoon
Sharminda hoon

Tumko maine
Chaha bhi hai
Tumhi ko maine
Gum bhi diye
Sharminda hoon
Sharminda hoon
Sach kehti hoon
Dil hi dil mein
Sharminda hoon

Duniya jo chahe keh le
Par tujhko milne se pehle
Khud se bhi naa
Mill saka tha main
Khoya saa tha main
Uljha sa tha
Ki tujh bin meri
Na thi koi raahien
Meri zindagi
Tujh bin thi jaise
Oss ki boond patti se
Ab giri ab giri oh ho ho
Oss ki boond patti se
Ab giri ab giri

Mainagarsaans thi
Tum khushboo thay
Kaise kaise pal pal yaadon ke
Tumhe aise kho ke
Akele main zinda hoon kyun

Kagaz tha main hawa mein udta
Tune mujh pe jaane kya likh diya
Mujhko abb toh naye
Shabd hai mill gaye
Ye shabd ye pyar ke

Tumko maine chaha bhi hai
Tumhi ko maine gum bhi diye
Sharminda hoon
Sharminda hoon
Sach kehti hoon
Dil hi dil mein
Sharminda hoon

Sitaaron se aage
Jahaan aur bhi hai
Abhi ishq ke imtehan
Aur bhi hai aur bhi hai
Tu shaheen hai parwaaz hai
Kaam tera tere
Saamne aasman aur bhi
Sitaaron se aage
Jahaan aur bhi hai

Tum ho sach ki
Ho koi parchhayi
Kya tum ek khwaab
Ho jo kahin nahi
Bheegi hai palkein meri
Takiye hai mere num
Tum hi bataao mujhko
Kaise bhulaaun yeh

Tumko maine chaha bhi hai
Tumhi ko maine gum bhi diye
Sharminda hoon
Sharminda hoon
Sharminda hoon

Duniya jo chahe keh le
Par tujhko milne se pehle
Khud se bhi naa
Mill saka tha main
Khoya saa tha
Main uljha sa tha
Ki tujh bin meri
Na thi koi raahien
Meri zindagi tujh
Bin thi jaise
Oss ki boond patti
Se ab giri ab giri
Meri zindagi thi
Oss ki boond patti
Se ab giri ab giri
Meri zindagi thi
Oss ki boond patti
Se ab giri ab giri.

Leave a Reply