Happy

Sheesha-E-Dil Itna Na Uchhalo (Dil Apna Aur Preet Parai)

By  | 



Song Info

Movie/Album: Dil Apna Aur Preet Parai

Release: 1960

Music Director: Shankar Jaikishan

Lyrics Hasrat Jaipuri

Singers: Lata Mangeshkar and Chorus

Lyrics in Hindi

मचलती-झूमती ठंडी हवाए कहती है
तड़पति मौजों की चंचल अदाए कहती है
संवरो ज़ुलफ को काली घटाए कहती है
ये भीगी-भीगी सुहानी फ़िज़ाएं कहती है
तुम्ही से आज तुम्हारी निगाहे कहती है
तुम्ही से आज तुम्हारी निगाहे कहती है
ओ ओ ओ ओ
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो
ये कही टूट जाएगा, ये कही फूट जाएगा
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो

नज़ारे हो गये क़ुरबान इन नज़ारो पर
मचलके आ गयी लहरे भी अब इशारो पर
अदा से तैरते फिरते है हम तो धारों पर
करेंगे प्यार का जादू जवान बहारो पर
ये कहने आई है सौ मछलियाँ किनरो पर
ये कहने आई है सौ मछलियाँ किनरो पर
ओ ओ ओ ओ
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो
ये कही टूट जाएगा, ये कही फूट जाएगा
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो
ला ला ला ला, ला ला ला ला, ला ला ला ला, ला ला ला ला
ला ला ला, ला ला ला ला, ला ला ला, ला ला ला ला

संभलो होश के दरिया का गहरा पानी है
ना डूब जाओ कहीं बेख़बर जवानी है
जवान बाहर किनारों पे आनी-जानी है
ज़रा ख़याल रहे दिल अजब निशानी है
अभी तो प्यार की दुनिया तुम्हे बसानी है
अभी तो प्यार की दुनिया तुम्हे बसानी है
ओ ओ ओ ओ
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो
ये कहीं टूट जाएगा, ये कहीं फूट जाएगा
शीशा-ए-दिल इतना ना उछालो


Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Avid music lover and Dev Anand fan

Leave a Reply