Romantic

Sona Nahi Na Sahi (One 2 Ka 4)

By  | 

Song Info

Movie: One 2 Ka 4
Release: 2001
Featuring Actors: Shah Rukh Khan, Juhi Chawla
Music Directors: A.R. Rahman
Lyrics: Majrooh Sultanpuri
Singers: Alka Yagnik, Udit Narayan
Trivia:

Lyrics in Hindi

सोना नहीं ना सही, चांदी नहीं ना सही
फ़िक्र क्या है, मैं हूँ ना तेरे लिए
सोना नहीं ना सही, चांदी नहीं ना सही
फ़िक्र क्या है, मैं हूँ ना तेरे लिए
सोना नहीं ना सही, चांदी नहीं ना सही
फ़िक्र क्या है, मैं हूँ ना तेरे लिए

हो, मगर जग में मेरी जान कोई दिल की तमन्ना
मोहब्बत के सिवा भी है मेरे लिए
तेरे मेरे लिए
सोना नहीं, चांदी नहीं, मगर जग में
मेरी जान कोई दिल की तमन्ना
मोहब्बत के सिवा नहीं तेरे लिए
तेरे मेरे लिए

प्यार मैं हूँ, प्यार तू है मान जाओ दिलरूबा
सारे जग में कुछ नहीं है एक तेरे मेरे सिवा
मानता हूँ सनम, प्यार ही है ज़िन्दगी
क्या करून दिल में थी बात कोई और ही

अरे जो भी है वो सब गलत है, मान जाओ दिलरूबा
सारे जग में कुछ नहीं है एक तेरे मेरे सिवा
अरे चलो माना बेहेस क्या है, मोहब्बत ही सच है यार
करोगे तुम, हाँ करोगे तुम सजन मुझसे
करूंगी मैं तुमसे प्यार

चलो सोना नहीं ना सही, चांदी नहीं ना सही
फ़िक्र क्या है तू है ना मेरे लिए
है ना मेरे लिए

सजन सुन ना, जाने तमन्ना
सजन सुन ना, जाने तमन्ना, तेरे लिए

सोना नहीं, चांदी नहीं
सोना नहीं ना सही, चांदी नहीं
फ़िक्र क्या है मैं हूँ ना तेरे लिए

हो, तिर्चि नज़रों से ना देखो आशिके दिलगीर को
कैसे तीर अंदाज़ हो, सीधा तो करलो तीर को
वो बड़ा तेज़ है जो दीवाना है मेरा
हूँ उस्सी की शिकार, जो निशाना है मेरा

तो खोलो जुल्फें इनकी खुशबू से मेहेक जाऊं ज़रा
गोरे तन की चांदनी से फिर चमक जाऊं ज़रा
चलो दो पल हम एक दूजे में खो जाए इस तरह
बहोत दिन के तरसते लैब लिपट जाए जिस तरह

सजन सुन ना, जाने तमन्ना
सजन सुन ना, जाने तमन्ना, मेरे लिए
सोना नहीं ना सही, चांदी नहीं ना सही
सोना नहीं ना सही, चांदी नहीं ना सही
सोना नहीं, आ आ आ, चांदी नहीं, आ
सोना नहीं, आ आ आ, चांदी नहीं, आ

Lyrics in English

Sona nahi na sahi, chandi nahi na sahi
Fiqar kya hai mai hun, na tere liye
Sona nahi na sahi, chandi nahi na sahi
Fiqar kya hai mai hun, na tere liye
Sona nahi na sahi, chandi nahi na sahi
Fiqar kya hai mai hun, na tere liye

O magar jag me meri jan koi dil ki tamanna
Mohabbat ke siva bhi hai, mere liye tere-mere liye
Sona nahi chandi nahi
Magar jag me meri, jan koi dil ki tamanna
Mohabbat ke siva nahi, tere liye mere-tere liye

Pyar mai hun pyar tu hai, man ja o dilaruba
Sare jag me kuch nahi hai, ik tere-mere siva
Manata hun sanam, pyar hi hai zindagi
Kya karun dil me thi, bat koi aur hi

Jo bhi hai vo sab galat hai, man ja o dilaruba
Sare jag me kuch nahi hai, ik tere-mere siva
Chalo mana behas kya hai, mohabbat hi sach hai yar
Karoge tum haan karoge tum sajan mujhse karungi main tumse pyar
Chalo sona nahi na sahi chandi nahi na sahi
Fiqar kya hai tu hai, na mere liye, hai na mere liye

Sajan sunana jaan-e-tamanna
Sajan sunana jan-e-tamanna tere liye
Sona nahi na sahi, chandi nahi na sahi
Fiqar kya hai, mai hun na tere liye
Ho tirachhi nazaron se na, dekho aashiq-e-dilgir ko
Kaise teerandaz ho, seedha to kar lo teer ko
Vo bada tez hai, jo diwana hai mera
Hoon usi ki shikaar, jo nishana hai mera

To kholo zulfe inaki, khushbu me mahak jaun zara
Gore tan ki chandani se, phir chamak jaun zara
Chalo do pal ham ik duje, me kho jaye is tarah
Bahut din ke tarasate, lab lipat jaye jis tarah

Sajan sunna jan-e-tamanna
Sajan sunna jan-e-tamanna tere liye
Sona nahi na sahi, chandi nahi na sahi
Sona nahi na sahi, chandi nahi na sahi
Sona nahi aa aa aa chandi nahi aa
Sona nahi aa aa aa chandi nahi aa

Official Video

Other Video

No video file selected

Leave a Reply