Drama

Tere Chehere Mein Hai (Chhote Sarkar)

By  | 

Movie: Chhote Sarkar
Release: 1974
Featuring Actors: Shammi Kapoor, Sadhana
Music Directors: Shankar Jaikishan
Lyrics:  Rajendra Krishan
Singers:  Mohammed Rafi
Trivia:

Lyrics in Hindi

तेरे चहरे में है जो

तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं
तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं
ऐसा जलवा न कोई है
न हुआ न होगा हो
तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं
ऐसा जलवा न कोई है
न हुआ न होगा हाय
तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं

अपने उलझे हुए बालों
को सवार जाने दे
फूल सी अपनी यह रुक्सार
निखार जाने दे
अपने उलझे हुए बालों
को सवार जाने दे
फूल सी अपनी यह रुक्सार
निखार जाने दे
सादगी होती है रुक्सत
तो उसे होने दे
जिस्म पर रंग जो बिखरे
तो बिखर जाने दे
तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं

अब तेरी चाल को तूफ़ान
उठाने होंगे
जितने सोए हुए फ़िटनी है
जगाने होंगे
अब तेरी चाल को तूफ़ान
उठाने होंगे
जितने सोए हुए फ़िटनी है
जगाने होंगे
अपनी आँखों को इशारो
की इजाज़त देकर
उन इशारों से कई रंग
ज़माने होंगे
तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं

यह बनावट का ज़माना
है बनावट मांगे
चाहे झूठी ही सही फिर
भी सजावट मांगे
यह बनावट का ज़माना
है बनावट मांगे
चाहे झूठी ही सही फिर
भी सजावट मांगे
दिल मगर मेरा तेरे प्यार
का दीवाना है
तेरे क़दमों की फकत हलकी
सी आहट मांगे
तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं
ऐसा जलवा न कोई है
न हुआ न होगा
तेरे चहरे में है जो
बात किसी और में नहीं.


Lyrics in English

Tere chehere mein hai jo

Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi
Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi
Aisa jalwa na koi hai
Na hua na hoga ho
Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi
Aisa jalwa na koi hai
Na hua na hoga haye
Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi

Apne uljhe huye balo
Ko sawar jaane de
Phul si apni yeh ruksar
Nikhar jane de
Apne uljhe huye balo
Ko sawar jaane de
Phul si apni yeh ruksar
Nikhar jane de
Sadgi hoti hai ruksat
To use hone de
Jism par rang jo bikhre
To bikhar jaane de
Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi

Ab teri chal ko toofan
Uthane honge
Jitne soye hue fitni hai
Jagane honge
Ab teri chal ko toofan
Uthane honge
Jitne soye hue fitni hai
Jagane honge
Apni aankho ko isharo
Ki ijazat dekar
Un isharo se kai rang
Zamane honge
Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi

Yeh banawat ka zamana
Hai banawat mange
Chahe jhuti hi sahi phir
Bhi sajawat mange
Yeh banawat ka zamana
Hai banawat mange
Chahe jhuti hi sahi phir
Bhi sajawat mange
Dil magar mera tere pyar
Ka deewana hai
Tere kadmo ki fakat halki
Si aahat mange
Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi
Aisa jalwa na koi hai
Na hua na hoga, ho
Tere chehere mein hai jo
Baat kisi aur mein nahi.

Leave a Reply