Drama

Tu Nahi Thi Jab Yahan (Dil Jo Bhi Kahey…)

By  | 

Movie: Dil Jo Bhi Kahey….
Release: 2005
Featuring Actors: Amitabh Bachchan, Revathi, Karan Sharma, Bhoomika Chawla
Music Directors: Ehsaan Noorani, Loy Mendonsa, Shankar Mahadevan
Lyrics: Javed Akhtar
Singers:  Mahalakshmi Iyer, Shankar Mahadevan, Shreya Ghoshal, Sudesh Bhonsle
Trivia:

Lyrics in Hindi

हो तू ना थी जब यहाँ
जैसे कोई कमी थी
हास्के भी आँखों में
हलकी हलकी नमी थी
तू जो आयी तोह छलका
हुवा जैसे प्यार हैं
तू जो आयी तोह जैसे
के आयी बहार हैं
तू जो यु दिल में हमारे
आ गयी जज़्बात जगे कई
खुशिया मिली हैं नयी
घर जके आँगन में
खुशियों की जैसे पुहार हैं
आपने प्यास को देके
हो तू ना थी जब यहाँ
जैसे कोई कमी थी
हास्के भी आँखों में
हलकी हलकी नमी थी
तू जो आयी तोह छलका
हुवा जैसे प्यार हैं
तू जो आयी तोह जैसे
के आयी बहार हैं
तू जो यु दिल में हमारे
आ गयी जज़्बात जगे कई
खुशिया मिली हैं नयी
घर जके आँगन में
खुशियों की जैसे पुहार हैं
आपने प्यास को देके पानी
की हैं संजोने की मेहरबानो
अपने क्या हैं सपने क्या हैं
होता कैसे मोहब्बत
का इकरार हैं
तू जो आयी तोह छलका
हुवा जैसे प्यार हैं
हो शुभ दिन आ गया
सबको इसकी बधाई
यह घडी एक नयी
जिंदगी साथ लायी
जिंदगी आ गयी एक
नयी मोड पर
बीती बातों को अब्ब
पितचे ही छोड़कर
देखो इसको तुम्हारा
कहा इंतजार हैं
तू जो आयी तोह जैसे
के आयी बहार हैं

मेरी आँखों अब्ब कोई
देखे ना मेरे आंसू
मेरे दिल से इस ग़म को
सबसे छुपाके रख ले तू
क्यों हो लुभाये से
क्यों हो यु गुमसुम से
दिल की साडी बाटे
कैसे कहूँ तुमसे
क्या कहु कितनी मुझको ख़ुशी
यह देखकर हैँ मिली
आज खुश हैं कोई
जिसकी चाहत के सागर
का नहीं कोई पर हैं
जिंदगी आ गयी
एक नए मोड पर
बीती बातों को अब्ब
पितचे ही छोड़कर
देखो किसको तुम्हारा
कहा इंतजार हैं
तू जो आयी तोह छलका
हुवा जैसे प्यार हैं
तू जो आयी तोह जैसे
के आयी बहार हैं.पानी
की हैं संजोने की मेहरबानो
अपने क्या हैं सपने क्या हैं
होता कैसे मोहब्बत का इकरार हैं
तू जो आयी तोह छलका
हुवा जैसे प्यार हैं
हो शुभ दिन आ गया
सबको इसकी बधाई
यह घडी एक नयी
जिंदगी साथ लायी
जिंदगी आ गयी एक
नयी मोड पर
बीती बातों को अब्ब
पितचे ही छोड़कर
देखो इसको तुम्हारा
कहा इंतजार हैं
तू जो आयी तोह जैसे
के आयी बहार हैं

मेरी आँखों अब्ब कोई
देखे ना मेरे आंसू
मेरे दिल से इस ग़म को
सबसे छुपाके रख ले तू
क्यों हो लुभाये से
क्यों हो यु गुमसुम से
दिल की साडी बाटे
कैसे कहूँ तुमसे
क्या कहु कितनी मुझको ख़ुशी
यह देखकर हैँ मिली
आज खुश हैं कोई
जिसकी चाहत के सागर
का नहीं कोई पर हैं
जिंदगी आ गयी
एक नए मोड पर
बीती बातों को अब्ब
पितचे ही छोड़कर
देखो किसको तुम्हारा
कहा इंतजार हैं
तू जो आयी तोह छलका
हुवा जैसे प्यार हैं
तू जो आयी तोह जैसे
के आयी बहार हैं.


Lyrics in English

Ho tu naa thi jab yaha
Jaise koyi kami thi
Haske bhi aankho me
Halki halki nami thi
Tu jo aayi toh chalka
Huwa jaise pyar hain
Tu jo aayi toh jaise
Ke aayi bahar hain
Tu jo yu dil me hamare
Aa gayi jazbat jage kayi
Khushiya mili hain nayi
Ghar jke aangan me
Khushiyo ki jaise puhar hain
Aapne pyas ko deke
Ho tu naa thi jab yaha
Jaise koyi kami thi
Haske bhi aankho me
Halki halki nami thi
Tu jo aayi toh chalka
Huwa jaise pyar hain
Tu jo aayi toh jaise
Ke aayi bahar hain
Tu jo yu dil me hamare
Aa gayi jazbat jage kayi
Khushiya mili hain nayi
Ghar jke aangan me
Khushiyo ki jaise puhar hain
Aapne pyas ko deke pani
Ki hain sanjone ki meharbanu
Apne kya hain sapne kya hain
Hota kaise mohabbat
Kaa ikrar hain
Tu jo aayi toh chalka
Huwa jaise pyar hain
Ho shubh din aa gaya
Sabko iski badhayi
Yeh ghadi ek nayi
Jindagi sath layi
Jindagi aa gayi ek
Nayi mode par
Biti bato ko abb
Pitche hi chodkar
Dekho isko tumhara
Kaha intjar hain
Tu jo aayi toh jaise
Ke aayi bahar hain

Meri aankho abb koyi
Dekhe naa mere aansu
Mere dil se iss gham ko
Sabse chupake rakh le tu
Kyon ho lubhaye se
Kyon ho yu gumsum se
Dil ki sari bate
Kaise kahu tumse
Kya kahu kitni mujhko khushi
Yeh dekhkar hain mili
Aaj khush hain koyi
Jiski chahat ke sagar
Kaa nahi koyi par hain
Jindagi aa gayi
Ek naye mode par
Biti bato ko abb
Pitche hi chodkar
Dekho kisko tumhara
Kaha intjar hain
Tu jo aayi toh chalka
Huwa jaise pyar hain
Tu jo aayi toh jaise
Ke aayi bahar hain.pani
Ki hain sanjone ki meharbanu
Apne kya hain sapne kya hain
Hota kaise mohabbat kaa ikrar hain
Tu jo aayi toh chalka
Huwa jaise pyar hain
Ho shubh din aa gaya
Sabko iski badhayi
Yeh ghadi ek nayi
Jindagi sath layi
Jindagi aa gayi ek
Nayi mode par
Biti bato ko abb
Pitche hi chodkar
Dekho isko tumhara
Kaha intjar hain
Tu jo aayi toh jaise
Ke aayi bahar hain

Meri aankho abb koyi
Dekhe naa mere aansu
Mere dil se iss gham ko
Sabse chupake rakh le tu
Kyon ho lubhaye se
Kyon ho yu gumsum se
Dil ki sari bate
Kaise kahu tumse
Kya kahu kitni mujhko khushi
Yeh dekhkar hain mili
Aaj khush hain koyi
Jiski chahat ke sagar
Kaa nahi koyi par hain
Jindagi aa gayi
Ek naye mode par
Biti bato ko abb
Pitche hi chodkar
Dekho kisko tumhara
Kaha intjar hain
Tu jo aayi toh chalka
Huwa jaise pyar hain
Tu jo aayi toh jaise
Ke aayi bahar hain.

Leave a Reply