Drama

Tumhari Aankhen (Dharmputra)

By  | 

Movie: Dharmputra
Release: 1961
Featuring Actors: Mala Sinha, Shashi Kapoor
Music Directors: Datta Naik
Lyrics: Sahir Ludhianvi
Singers: Mahendra Kapoor
Trivia:

Lyrics in Hindi

भूल सकता है भला कौन
यह प्यारी आँखे
रंग में डूबी हुई
नींद से भरी आँखे
भूल सकता है भला कौन

मेरी हर सांस ने हर
सोच ने चाहा है तुम्हे
जब से देखा है तुम्हे
तब से सराहा है तुम्हे
बस गयी है मेरी आँखों
में तुम्हारी आँखे
रंग में डूबी हुई
नींद से भरी आँखे
भूल सकता है भला कौन

तुम जो नजरों को उठाओ
तोह सितारे झुक जाये
तुम जो पलकों को झुकाओ
तोह ज़माने रुक जाये
क्यों न बन जाये इन
आँखों की पुजारी आँखे
रंग में डूबी हुई
नींद से भरी आँखे
भूल सकता है भला कौन

जागती रातों को सपनो
का खजाना मिल जाये
तुम जो मिल जाओ तोह
जीने का बहाना मिल जाये
अपनी किस्मत पे करे
नाज़ हमारी आँखे
भूल सकता है भला
कौन यह प्यारी आँखे
रंग में डूबी हुई
नींद से भरी आँखे
भूल सकता है भला कौन.


Lyrics in English

Bhul sakta hai bhala kaun
Yeh pyari aankhe
Rang me dubi huyi
Nind se bhari aankhe
Bhul sakta hai bhala kaun

Meri har saans ne har
Soch ne chaha hai tumhe
Jab se dekha hai tumhe
Tab se saraha hai tumhe
Bas gayi hai meri aankho
Me tumhari aankhe
Rang me dubi huyi
Nind se bhari aankhe
Bhul sakta hai bhala kaun

Tum jo najro ko uthao
Toh sitare jhuk jaye
Tum jo palko ko jhukao
Toh jamane ruk jaye
Kyun na ban jaye in
Aankho ki pujari aankhe
Rang me dubi huyi
Nind se bhari aankhe
Bhul sakta hai bhala kaun

Jagti rato ko sapno
Ka khajana mil jaye
Tum jo mil jao toh
Jine ka bahana mil jaye
Apni kismat pe kare
Naz hamari aankhe
Bhul sakta hai bhala
Kaun yeh pyari aankhe
Rang me dubi huyi
Nind se bhari aankhe
Bhul sakta hai bhala kaun.

Leave a Reply