Drama

Yeh Duniya Kaisi Hai Bhagwan (Diwana)

By  | 

Movie: Diwana
Release: 1952
Featuring Actors: Suresh Kumar, Suraiya
Music Directors: Naushad Ali
Lyrics:  Shakeel Badayuni
Singers: Hridaynath Mangeshkar
Trivia:

Lyrics in Hindi

यह दुनिया कैसी है भगवन
जहाँ मर मर जिये इंसान

कहने दो तुम आज मुझे
अफसाना एक दुखियारी का
जिस कीय भोले मन्न में
एक दिन लगा तीर शिकारी का
प्यार हुवा दोनों में फिर भी
निकले नहीं अरमान
यह दुनिया कैसी

दिप खुशी कीय बुझ गए जल के
लग गयी आग जवानी में
जग वाले ने जहर मिलाया
प्यार के मीठे पानी में
बिछड़ गया
नैय्या से खिवैया
आया वह तूफान
यह दुनिया कैसी

पडी है उस बेकस की नैय्या
अब्ब तक ग़म कीय धरे पेह
छोड़ जिसे बेदर्द खिवैया
पहुंचा आप किनारे पेह
चार दिनों में प्यार की कसमें
भूल गया नादाँ
यह दुनिया कैसी

रोती है दिन रात वह बिरहँ
याद में प्यारे साजन की
ओ मालिक इन्साफ़ तोह कर
क्या रीत यही है जीवन की
लूट के एक निर्धन की दुनिया
मौज करे धनवान
यह दुनिया कैसी.


Lyrics in English

Yeh duniya kaisi hai bhagwan,
Jahan mar mar jiye insan

Kahene do tum aaj mujhe,
Afsana ek dukhiyaree ka
Jis key bhole mann mein
Ek din laga tir shikaree ka
Pyar huwa dono mein phir bhee,
Nikle nahee arman
Yeh duniya kaisi

Dip khushee key bujh gaye jal key,
Lag gayee aag jawanee mein
Jag wale ne jeher milaya,
Pyar key mithe panee mein
Bichhad gaya, bichhad gaya
Naiyya se khiwaiya,
Aaya woh tufan
Yeh duniya kaisi

Padee hai uss bekas kee naiyya,
Abb tak gham key dhare peh
Chhod jise bedard khiwaiya,
Pahuncha aap kinare peh
Char dino me pyar kee kasme,
Bhul gaya nadan
Yeh duniya kaisi

Rotee hai din rat woh birhan,
Yaad men pyare sajan kee
O malik insaf toh kar,
Kya rit yahee hai jivan kee
Lut key ek nirdhan kee duniya,
Mouj kare dhanwan
Yeh duniya kaisi.

Leave a Reply