Drama

Yeh Kaisa Pyar Hai (Chauraha)

By  | 

Movie: Chauraha
Release: 1994
Featuring Actors: Jeetendra, Jackie Shroff, Jayapradha
Music Directors: Laxmikant Pyarelal
Lyrics: Anand Bakshi
Singers: Amit Kumar, Kavita Krishnamurthy
Trivia:

Lyrics in Hindi

ये कैसा प्यार है
ये कैसा प्यार है
ये आँखों में है नींद
न दिल में करार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
ये कैसा प्यार है
के आँखों में है नींद
न दिल में करार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
ये कैसा प्यार है

कितनी जोर से इस दिल में
तेरी मोहब्बत धडकी है
कितनी जोर से इस दिल में
तेरी मोहब्बत धडकी है
हो एक छोटी सी चिंगारी
हो एक छोटी सी चिंगारी
शोला बन कर भडकी है
आग है ये आग इस्पे किसका इख़्तियार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
ये कैसा प्यार है
ये कैसा प्यार है

तुमसे मुझे कुछ कहना था
अब मुस्किल चुप रहना था
तुमसे मुझे कुछ कहना था
अब मुस्किल चुप रहना था
कहते कहते मैं लेकिन
कहते कहते मैं लेकिन
हाय भूल गया मैं क्या कहना था
ऐसा मेरे साथ हुआ आज पहली बार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
ये कैसा प्यार है
ये कैसा प्यार है

आँखों में यु रहती है हरदम मूरत तेरी
आँखों में यु रहती है हरदम मूरत तेरी
दर्पण देखु तो देखो
दर्पण में सूरत तेरी
हो तेरे मेरे बीच बस
एक कांच की दिवार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
ये कैसा प्यार है
के आँखों में है नींद
न दिल में करार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है
सामने है तू फिर भी तेरा इंतज़ार है.


Lyrics in English

Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai
Ye ankho me hai neend
Na dil mein karar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai
Ke ankho mein hai neend
Na dil mein karar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai

Kitni jor se is dil mein
Teri mohabbat dhadki hai
Kitni jor se is dil mein
Teri mohabbat dhadki hai
Ho ek chhoti si chingari,
Ho ek chhoti si chingari
Shola ban kar bhadki hai
Aag hai ye aag ispe kiska ikhtiyar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai

Tumse mujhe kuch kahna tha
Ab muskil chup rahna tha
Tumse mujhe kuch kahna tha
Ab muskil chup rahna tha
Kahte kahte main lekin,
Kahte kahte main lekin
Haye bhul gaya main kya kahna tha
Aisa mere sath hua aaj pahli bar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai

Ankho me yu rahti hai hardam murat teri
Ankho me yu rahti hai hardam murat teri
Darpan dekhu to dekhu
Darpan mein surat teri
Ho tere mere bich bas
Ek kanch ki diwar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Ye kaisa pyar hai, ye aisa pyar hai
Ke ankho mein hai neend
Na dil mein karar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai
Samne hai tu phir bhi tera intzar hai.

Leave a Reply