Drama

Yeh Sochta Hai Kya (Grahan)

By  | 

Movie: Grahan
Release: 2001
Featuring Actors: Manisha Koirala, Jackie Shroff
Music Director: Karthik Raja
Lyrics:  Mehboob Alam Kotwal
Singer:  Asha Bhosle, Hariharan
Trivia:

Lyrics in Hindi

यह सोचता है क्या
ज़रा पलट इधर
ऐ देखता है क्यों
भला इधर उधर
कितनी अच्छी मई
लगाती हूँ देखा क्या
मै कितनी सुन्दर हो
तूने मुझको समझा क्या
यह सोचता है क्या
ज़रा पलट इधर
ऐ देखता है क्यों
भला इधर उधर

डरता है क्यों तू
आँखें खोल खोल के
देख गोरी गोरी मेरे जैसी
देखा ना होगा कही
मजे मोहब्बत के मिल के
हम उठाएँ ज़रा
प्यार करते करते
थक के सो जाये यहाँ
क्या प्यारा टाइम है
मौसम फाइन है
गले लगा ले मुझको
मुझमें तू खो जा ज़रा
यह सोचता है क्या
ज़रा पलट इधर
ऐ देखता है क्यों
भला इधर उधर
कितनी अच्छी मई
लगाती हूँ देखा क्या
मै कितनी सुन्दर हो
तूने मुझको समझा क्या

संभल खुद को तू
यु ही बात ना बढा
रोक ले खुद को तू
ऐसे कदम ना उठा
के फिर से दामन पे
दाग लग ना जाये कही
तू हो रुसवा हमें भी
यह तोह मंजूर ही नहीं
मेरे नजदीक ना आ
ज़रा होश में आ
के यह मदहोशी तोह
बुरी है यह नशा बुरा
यह सोचता है क्या
ज़रा पलट इधर
ऐ देखता है क्यों
भला इधर उधर
कितनी अच्छी मई
लगाती हूँ देखा क्या
मै कितनी सुन्दर हो
तूने मुझको समझा क्या
यह सोचता है क्या
ज़रा पलट इधर
ऐ देखता है क्यों
भला इधर उधर.


Lyrics in English

Yeh sochata hai kya
Zara palat idhar
Ai dekhata hai kyun
Bhala idhar udhar
Kitani achchhi mai
Lagati hu dekha kya
Mai kitani sundar hu
Tune mujhko samajha kya
Yeh sochata hai kya
Zara palat idhar
Ai dekhata hai kyun
Bhala idhar udhar

Darata hai kyun too
Aankhen khol khol ke
Dekh gori gori mere jaisi
Dekha naa hoga kahi
Maje mohabbat ke mil ke
Ham uthayein zara
Pyar karate karate
Thak ke so jaye yahan
Kya pyara time hai
Mausam fine hai
Gale laga le mujhko
Mujhame too kho ja zara
Yeh sochata hai kya
Zara palat idhar
Ai dekhata hai kyun
Bhala idhar udhar
Kitani achchhi mai
Lagati hu dekha kya
Mai kitani sundar hu
Tune mujhko samajha kya

Sambhal khud ko too
Yu hi bat naa badha
Rok le khud ko too
Aise kadam naa utha
Ke phir se daman pe
Dag lag naa jaye kahi
Too ho rusava hamen bhi
Yeh toh manjur hi nahi
Mere najadik naa aa
Zara hosh me aa
Ke yeh madhoshi toh
Buri hai yeh nasha bura
Yeh sochata hai kya
Zara palat idhar
Ai dekhata hai kyun
Bhala idhar udhar
Kitani achchhi mai
Lagati hu dekha kya
Mai kitani sundar hu
Tune mujhko samajha kya
Yeh sochata hai kya
Zara palat idhar
Ai dekhata hai kyun
Bhala idhar udhar.

Leave a Reply