Drama

Zameen Bhi Wahi (Chandni Chowk)

By  | 

Movie: Chandni Chowk
Release: 1954
Featuring Actors: Shekhar, Meena Kumari,
Music Directors: Roshan
Lyrics: Majrooh Sultanpuri
Singers:  Mohammed Rafi
Trivia:

Lyrics in Hindi

ज़मीन भी वही
है वही आसमान
ज़मीन भी वही
है वही आसमान
मगर अब वो दिल्ली
की गलियां कहा

यहाँ पर ठिकाना किसी का नहीं
ये ज़ालिम ज़माना किसी का नहीं
यहाँ लुट गए कितने ही कारवां
कहा है वो दिल्ली की गलियां कहा

वो उल्फत निगाहों में बाक़ी नहीं
वो महफ़िल नहीं है वो साथी नहीं
हुई बद इनसानियत की जुबां
इलाही वो दिल्ली की गलियां कहा

गया मौसम ए गुल
बहारो के साथ
वो दुनिया गई
ताजदारो के साथ
ज़माना गया रह गई दास्ताँ
वो दिल्ली व दिल्ली की गलियां कहा
वो दिल्ली व दिल्ली की गलियां कहा
वो दिल्ली व दिल्ली की गलियां कहा.


Lyrics in English

Zameen bhi wahi
Hai wahi aasmaan
Zameen bhi wahi
Hai wahi aasamaan
Magar ab wo dilli
Ki galiyaan kaha

Yaha par thikana kisi kaa nahi
Ye zaalim zamana kisi kaa nahi
Yaha lut gaye kitane hi caravan
Kaha hai wo dilli ki galiyaan kaha

Wo ulfat nigaaho me baaqi nahi
Wo mahafil nahi hai wo saathi nahi
Hui bad inasaaniyat ki zubaan
Ilaahi wo dilli ki galiyaan kaha

Gaya mausam e gul
Bahaaro ke saath
Wo duniya gai
Taajadaaro ke saath
Zamana gaya rah gai daastaan
Wo dilli wo dilli ki galiyaan kaha
Wo dilli wo dilli ki galiyaan kaha
Wo dilli wo dilli ki galiyaan kaha.

Leave a Reply