Drama

Ae Nazneen Suno Na (Dil Hi Dil)

By  | 

Movie: Dil Hi Dil Mein
Release: 2000
Featuring Actors: Sonali Bendre, Nasser, Kunal Singh
Music Director: A.R. Rahman
Lyrics: Mehboob Alam Kotwal
Singers: Abhijeet Bhattacharya
Trivia:

Lyrics in Hindi

ऐ नाज़नीन सुनो न
ऐ नाज़नीन सुनो न
हमें तुमपे
हक़ तो दो न
चाहें तो जान लो न

के देखा तुम्हें
तो होश उड़ गए
होंठ जैसे खुद ही सिल गए
ये होंठ जैसे खुद ही सिल गए

ऐ नाज़नीन सुनो न
ऐ नाज़नीन सुनो न
हमें तुमपे
हक़ तो दो न
चाहें तो जान लो न

के देखा तुम्हें
तो होश उड़ गए
होंठ जैसे होंठ जैसे
खुद ही सिल गए
ये होंठ जैसे खुद ही सिल गए

लगता है कि तुमको
रब ने बनाया जिस दम
अपनी क़ुदरतों को उसने
तुम में कर दिया था गम
इस जहाँ को हुस्न बाटना
भी कर दिया था काम

तीखे तीखे नए नक्श तेरे
कलियों से कोमल होंठ तेरे
फूलों से नाज़ुक पाओं तेरे
दोनों जहाँ क़ुर्बान तेरे

तराशा प्यार से जिसे रब ने
वह मूरत हो तुम
संतराशों की जैसे देवि तुम

तराशा प्यार से जिसे रब ने
वह मूरत हो तुम
संतराशों की जैसे देवि तुम
तुमसे जहाँ में कोई न

ऐ नाज़नीन सुनो न
ऐ नाज़नीन सुनो न
हमें तुमपे हक़ तो दो न
चाहें तो जान लो न

के देखा तुम्हें
तो होश उड़ गए
होंठ जैसे होंठ जैसे
खुद ही सिल गए

पर्दा ख्यालों
का है सचमुच
ज़रा सामने आ
चाँद को में ताकता हूँ
पर तेरी शकल आखों में
जी जलायी चंदिनि भी
ठंडी ठंडी रातों में

नाता नींदों से टूट गया
तेरे लिए ऐ मेरे हसीन
दिल को यकीं ये भी है मगर
आएगा ऐसा दिन भी कभी

जब मुलाक़ातें भी होंगी
मीठी सी बातें भी होंगी
प्यार भरी रातें भी होंगी
देखना

जब मुलाक़ातें भी होंगी
मीठी सी बातें भी होंगी
प्यार भरी रातें
भी होंगी देखना

ा ने की खबर दो न
ऐ नाज़नीन सुनो न
ऐ नाज़नीन सुनो न
हमें तुमपे हक़ तो दो न
चाहें तो जान लो न

के देखा तुम्हें
तो होश उड़ गए
होंठ जैसे होंठ जैसे
खुद ही सिल गए
ये होंठ जैसे खुद ही सिल गए
होंठ जैसे खुद ही सिल गए.


Lyrics in English

Ae nazneen suno na
Ae nazneen suno na
Humein tumpe
Haq to do na
Chahein to jaan lo na

Ke dekha tumhein
To hosh ud gaye
Hont jaise khud hi sil gaye
Ye hont jaise khud hi sil gaye

Ae nazneen suno na
Ae nazneen suno na
Humein tumpe
Haq to do na
Chahein to jaan lo na

Ke dekha tumhein
To hosh ud gaye
Hont jaise hont jaise
Khud hi sil gaye
Ye hont jaise khud hi sil gaye

Lagta hai ke tumko
Rab ne banaya jis dam
Apni kudraton ko usne
Tum mein kar diya tha gum
Is jahan ko husn baatana
Bhi kar diya tha kam

Tikhe tikhe naye naksh tere
Kaliyon se komal hont tere
Phoolon se nazuk paon tere
Dono jahan qurbaan tere

Tarasha pyaar se jise rab ne
Woh murath ho tum
Santarashon ki jaise devi tum

Tarasha pyaar se jise rab ne
Woh murath ho tum
Santarashon ki jaise devi tum
Tumsa jahan mein koi na

Ae nazneen suno na
Ae nazneen suno na
Humein tumpe haq to do na
Chahein to jaan lo na

Ke dekha tumhein
To hosh ud gaye
Hont jaise hont jaise
Khud hi sil gaye

Parda khayalon
Ka hai sachmuch
Zara saamne aa
Chand ko mein takta hoon
Par teri shaqal aakhon mein
Ji jalayi chandini bhi
Thandi thandi raaton mein

Naata nindon se toot gaya
Tere liye ae mere hasin
Dil ko yakin ye bhi hai magar
Aayega aisa din bhi kabhi

Jab mulaqatein bhi hongi
Mithi si baatein bhi hongi
Pyaar bhari raatein bhi hongi
Dekhnaaa

Jab mulaqatein bhi hongi
Mithi si baatein bhi hongi
Pyaar bhari raatein
Bhi hongi dekhnaaa

Aa ne ki khabar do na
Ae nazneen suno na
Ae nazneen suno na
Humein tumpe haq to do na
Chahein to jaan lo na

Ke dekha tumhein
To hosh ud gaye
Hont jaise hont jaise
Khud hi sil gaye
Ye hont jaise khud hi sil gaye
Hont jaise khud hi sil gaye.

Leave a Reply