Philosophical

Jeevan Been Madhur Na Baaje (Street Singer)



Song Info

Movie/Album: Street Singer



Release: 1938

Music Director: R.C.Boral

Lyrics Arzoo Lucknowi

Singers: K.L.Saigal

Lyrics in Hindi

जीवन बीन मधुर न बाजे झूठे पड़ गये तार
बिगड़े काठ से काम बने क्या मेघ बजे न मल्हार
पंचम छेड़ो मध्यम बोले खरज बने गन्धार
बीन के झूठे पड़ गये तार
जीवन बीन मधुर न बाजे झूठे पड़ गये तार
बीन के झूठे पड़ गये तार

इन तारो को खोलो इन तरभो को फेंको फेंको
उत्तम तार नयी तरभे हो, तब हो नया श्रिंगार
इस तरभे से जो सुर बोले गूंज उठे संसार
बीन के झूठे पड़ गये तार
जीवन बीन मधुर न बाजे झूठे पड़ गये तार
बीन के झूठे पड़ गये तार

बजने को है गूंज नगाड़ा होना है सबसे छुटकारा
अपना जो है उसे समझ लो वह भी नहीं हमारा

Song Trivia

Official Video

Other Renditions

No video file selected

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top