Drama

Khaamosh Nigaahein (Daasi)

By  | 

Movie: Daasi
Release: 1944
Featuring Actors: Najam, Ragini, Gyani
Music Directors: Pandit Amarnath
Lyrics: D. N. Madhok
Singers: Shiv Dayal Batish
Trivia:

Lyrics in Hindi

खामोश निगाहें
खामोश निगाहें
खामोश निगाहें
ये सुनाती हैं कहानी
खामोश निगाहें
ये सुनाती हैं कहानी
लो आज चलि ठोकरें
खाने को जवानी
खामोश निगाहें

ये मान लिया पंछी
ये मान लिया काट लिए
पर है किसी ने
पर दिल की कहानी तो है
पीया को सुनानी
खामोश निगाहें

हर सू है अँधेरा तो
दिया इक भी जले क्यूँ
फूटी हुयी किस्मत को है
अब ठोकरें खानी
खामोश निगाहें
खामोश निगाहें

है रात सुहानी दिए
जलते हैं हज़ारों
हसरत के अँधेरे से
बानी आज दीवानी
आज दीवानी
खामोश निगाहें
खामोश निगाहें

शायद ये तेरे उजड़े हुए
दिल की है तस्वीर
पानी की रवानी में
चिरागों की रवानी
पानी की रवानी में
चिरागों की रवानी
खामोश निगाहें
खामोश निगाहें

घर बार उजाड़ा
तेरी फुरक़त में जूनून से
घर बार उजाड़ा
तेरी फुरक़त में जूनून से
सीने से लगा रखी है
इक तेरी निशानी
इक तेरी निशानी
खामोश निगाहें
खामोश निगाहें

बाज़ार में ढूँढा
तुझे गलियों में पुकार
अफ़सोस किसी ने ना
सुनी और ना मानी
अफ़सोस किसी ने ना
सुनी और ना मानी
खामोश निगाहें
खामोश निगाहें

दिन रात तुझे ढूंढ रही आआ
दिन रात तुझे ढूंढ रही
है मेरी आँखें
जाएंगे जहां ले
चले अश्क़ो की रवानी
खामोश निगाहें

तक़दीर दर ऐ यार पे आआ
तक़दीर दर ऐ यार पे
आखिर मुझे लायी
सुन दिल की कहानी
मेरी आँखों की ज़ुबानी
सुन दिल की कहानी
मेरी आँखों की ज़ुबानी
खामोश निगाहें
खामोश निगाहें.


Lyrics in English

Khaamosh nigaahein
Khaamosh nigaahein
Khaamosh nigaahein
Ye sunaati hain kahaani
Khaamosh nigaahein
Ye sunaati hain kahaani
Lo aaj chali thokarein
Khaane ko jawaani
Khaamosh nigaahein

Ye maan liya panchhi
Ye maan liya kaat liye
Par hai kisi ne
Par dil ki kahaani to hai
Piyaa ko sunaani
Khaamosh nigaahein

Har su hai andhera to
Diya ik bhi jale kyun
Phooti huyi qismat ko hai
Ab thokaren khaani
Khaamosh nigaahen
Khaamosh nigaahen

Hai raat suhaani diye
Jalte hain hazaaron
Hasrat ke andhere se
Bani aaj deewaani
Aaj deewaani
Khaamosh nigaahein
Khaamosh nigaahein

Shaayad ye tere ujde huye
Dil ki hai tasweer
Paani ki rawaani mein
Chiraagon ki rawaani
Paani ki rawaani mein
Chiraagon ki rawaani
Khaamosh nigaahen
Khaamosh nigaahen

Ghar baar ujaadaa
Teri furqat mein junoon se
Ghar baar ujaadaa
Teri furqat mein junoon se
Seene se lagaa rakhi hai
Ik teri nishaani
Ik teri nishaani
Khaamosh nigaahein
Khaamosh nigaahein

Baazaar mein dhoondha
Tujhe galiyon mein pukaara
Afsos kisi ne naa
Suni aur naa maani
Afsos kisi ne naa
Suni aur naa maani
Khaamosh nigaahen
Khaamosh nigaahen

Din raat tujhe dhoondh rahi aaaa
Din raat tujhe dhoondh rahi
Hai meri aankhein
Jaayenge jahaan le
Chale ashqo ki rawaani
Khaamosh nigaahein

Taqdeer dar e yaar pe aaaa
Taqdeer dar e yaar pe
Aakhir mujhe laayi
Sun dil ki kahaani
Meri aankhon ki zubaani
Sun dil ki kahaani
Meri aankhon ki zubaani
Khaamosh nigaahein
Khaamosh nigaahein.

Leave a Reply